ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश महाराजगंजअधिकारी चुनाव में व्यस्त,धंधेबाज मिट्टी खनन में मस्त

अधिकारी चुनाव में व्यस्त,धंधेबाज मिट्टी खनन में मस्त

महराजगंज, हिन्दुस्तान टीम। लोकसभा चुनाव में अधिकारियों के व्यस्त होने का बेजा...

अधिकारी चुनाव में व्यस्त,धंधेबाज मिट्टी खनन में मस्त
हिन्दुस्तान टीम,महाराजगंजTue, 28 May 2024 08:30 AM
ऐप पर पढ़ें

महराजगंज, हिन्दुस्तान टीम।
लोकसभा चुनाव में अधिकारियों के व्यस्त होने का बेजा फायदा उठाकर मिट्टी और बालू का अवैध धंधेबाज खनन में मस्त हैं। दिन रात खनन वाले वाहन दौड़ रहे हैं। शिकायत करने पर जब तक टीम मौके पर पहुंचे। तब तक खनन के धंधेबाज गायब हो जा रहे हैं। खेत की मिट्टी मनमाने ढंग से अधिक गहराई में निकाले जाने से खेत की उर्वरा शक्ति भी चली जा रही है। सड़कें भी क्षतिग्रस्त हो रही हैं। धूल के गुबार से लोगों को सांस लेने में भी परेशानी हो रही है।

जनपद में दो कामों के लिए अधिक मिट्टी निकाली जा रही है। इसमें ईंट भट्ठा वाले और मिट्टी का कारोबार करने वाले मिट्टी निकलवा रहे हैं। जिला पंचायत के अभिलेखों में 264 ईंट भट्ठे हैं। इसमें सदर, घुघली, फरेंदा, मिठौरा, निचलौल, नौतनवा, सोनौली, पनियरा, परतावल, श्यामदेउरवा, धानी, लक्ष्मीपुर, बृजमनगंज समेत क्षेत्रों में दर्जनों ईंट भट्ठे चलते हैं। इन भट्ठों पर मिट्टी का ढेर बनाने के लिए दिन रात खोदाई करके ट्रैक्टर ट्राली से मिट्टी ढुलाई की जा रही है।

नियमों का नहीं करते पालन, मनमानी जारी

नियम है कि शाम के समय मिट्टी की खुदाई नहीं की जा सकती। मिट्टी निकालने से पहले जमीन मालिक और ईंट भट्ठा स्वामी के बीच लिखित करार होना चाहिए। मिट्टी की खोदई की गहराई भी निर्धारित है। लेकिन इसके बाद मानक को धता बताकर खोदाई की जा रही है। मानक अनदेखी करते हुए ईंट भट्ठा मालिक मिट्टी खनन करा रहे हैं। जबकि अवैध धंधेबाज खाली पड़े खेतों से मनमानी मिट्टी निकालकर ढो रहे हैं। लोगों का कहना हैकि बरसात में खनन वाले खेतों में जलभराव हो जाता है।

फरेंदा में रात भर होता है खनन

फरेंदा। फरेंदा क्षेत्र में वैध की आड़ में अवैध मिट्टी का खनन दिन रात चल रहा है। रात के 9 बजे से भोर के चार बजे तक खनन की गाड़ियां दौड़ती रहती हैं। ओवरलोड वाहनों के चलने से सड़कें खराब हो रही हैं।

हरदी डाली क्षेत्र में बेखौफ हो रहा खनन

खनुआ। सोनौली कोतवाली क्षेत्र के हरदीडाली गांव के आसपास भारी पैमाने पर जेसीबी से मिट्टी खनन हो रहा है। मिट्टी को 1000-1200 रुपये प्रति ट्राली बेचा जा रहा है। क्षेत्र के उमाशंकर, किशन कुमार, रामरक्षा, उमेश व गोली आदि ने बताया कि मिट्टी खनन से खेत गहरे हो जा रहे हैं। तेज रफ्तार से चल रही ट्रैक्टर ट्राली से धूल उड़ने से लोग परेशान हैं।

घुघली में भी बेरोकटोक खनन

महराजगंज। घुघली क्षेत्र में अवैध तरीके से मिट्टी खनन हो रहा है। यहां मिट्टी को 1000 से 1200 रुपये प्रति ट्राली की दर से बेचा जा रहा है। क्षेत्र के पकडि़यार विशुनपुर, हरखा प्यास, बारीगाव, हरखी, मेदिनीपुर, बेलवा टीकर, भुवना, भुवनी, खंडेसर, मंगलपुर पटकहौली, टेढ़वा, विश्वनाथपुर, घुघली बुजुर्ग, तिलकवनिया, पचरुखिया, लक्ष्मीपुर महन्थ, धनगढ़ी मुंडेरी समेत कई गांवों में दिन रात मिट्टी का खनन हो रहा है।

जनपद में मिट्टी खनन पर नजर रखने का निर्देश दिया गया है। आम लोगों को भी चाहिए कि जहां गड़बड़ी दिखे वहां तुरंत सूचना दें। जांच अभियान चलाया जाएगा। जो भी अवैध खनन करते हुए पकड़ा जाएगा। उसके खिलाफ विधिक कार्रवाई की जाएगी।

डॉ. पंकज कुमार वर्मा,एडीएम

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।