DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › महाराजगंज › मनरेगा घोटाला : डीआरडीए पहुंची एसआईटी ने जांच का दायरा बढ़ाया
महाराजगंज

मनरेगा घोटाला : डीआरडीए पहुंची एसआईटी ने जांच का दायरा बढ़ाया

हिन्दुस्तान टीम,महाराजगंजPublished By: Newswrap
Tue, 06 Jul 2021 10:51 PM
मनरेगा घोटाला : डीआरडीए पहुंची एसआईटी ने जांच का दायरा बढ़ाया

महराजगंज। निज संवाददाता

मनरेगा घोटाले की जांच कर रही एसआईटी ने जांच का दायरा बढ़ा दिया है। मंगलवार को टीम में शामिल क्राइम ब्रांच प्रभारी व केस के विवेचक मो. सलीम खान, साइबर सेल प्रभारी मनोज पंत, कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनीष सिंह डीआरडीए पहुंचे। जिम्मेदारों से पूछताछ कर जांच के क्रम में जानकारियां जुटाईं। कुछ लोगों के चेहरे पर शिकन दिखे। वहीं सवालों का जवाब ढूंढने के लिए डीएआरडीए के कर्मी दस्तावेज खंगालते रहे।

परतावल बीडीओ ने 28 मई को सदर कोतवाली में मनरेगा में फर्जी भुगतान का केस दर्ज कराया गया था। आरोप था कि बिना कार्य कराए बरियहवा पोखरी के सुन्दरीकरण के नाम पर 25 लाख 87 हजार का गबन किया गया है। इस मामले में एपीओ विनय मौर्य व एक कम्प्यूटर ऑपरेटर शिवराम गुप्ता को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। परतावल ब्लाक में मनरेगा घोटाला की जांच अभी चल ही रही थी कि उसी दौरान घुघली ब्लाक में भी मनरेगा घोटाला के मामले में दो एफआईआर दर्ज कराए गए। इस मामले में एसआईटी ने जिम्मेदारों को नोटिस भेज कुछ सवाल पूछा था। इसी मामले को लेकर डीआरडीए के पीडी की मौजूदगी में एसआईटी ने पूछताछ की। जांच के लिए कुछ दस्तावेज उपलब्ध कराने की बात बोल टीम वापस लौट गई।

सभी ब्लाक तक पहुंचेगी एसआईटी की जांच

जांच कर रही एसआईटी टीम यह पता करने में जुट गई है कि ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के जरिए आरोपितों के बैंक खाते में कहां-कहां से मनरेगा की धनराशि का भुगतान किया गया। इसमें कौन-कौन लोग संलिप्त हैं? जांच के लिए सभी ब्लाक से रिकार्ड मुहैया कराने को कहा गया है।

गिरफ्तारी से बचने के लिए हाईकोर्ट पहुंचे आरोपित

मनरेगा घोटाला में आठ नामजद आरोपितों का नाम सामने का चुका है। इसमें से केवल दो की गिरफ्तारी हुई है। अन्य आरोपित गिरफ्तारी से बचने के लिए हाईकोर्ट पहुंचे हुए हैं। पुलिस टीम पूरे मामले पर नजर जमाए हुई है। एक आरोपित की जमानत अर्जी जिले की न्यायालय से खारिज हो चुकी है। पुलिस अफसरों का कहना है कि सभी कार्रवाई विधिक प्रक्रिया से जारी है। आरोपित बचेंगे नहीं। कार्रवाई की जद में आएंगे।

मनरेगा घोटाला में पूछताछ के लिए मंगलवार को एसआईटी टीम डीआरडीए गई थी। कई बिन्दुओं पर पूछताछ हुई। प्रकरण से जुड़े कुछ दस्तावेज मांगे गए हैं। पूरे मामले की विस्तृत जांच की जा रही है। इसमें जिनका भी नाम सामने आएगा उनके खिलाफ कार्रवाई तय है।

प्रदीप गुप्ता-एसपी

संबंधित खबरें