ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश महाराजगंजसमय से जारी होंगे इंडेंट, किसानों को गन्ने की तौल में नहीं करनी पड़ेगी भागदौड़

समय से जारी होंगे इंडेंट, किसानों को गन्ने की तौल में नहीं करनी पड़ेगी भागदौड़

महराजगंज, हिन्दुस्तान टीम चालू पेराई सीजन में गन्ना आयुक्त ने महराजगंज के किसानों...

समय से जारी होंगे इंडेंट, किसानों को गन्ने की तौल में नहीं करनी पड़ेगी भागदौड़
हिन्दुस्तान टीम,महाराजगंजWed, 29 Nov 2023 10:15 AM
ऐप पर पढ़ें

महराजगंज, हिन्दुस्तान टीम
चालू पेराई सीजन में गन्ना आयुक्त ने महराजगंज के किसानों की समस्याओं का समाधान निकालने का प्रयास किया है। गन्ना आयुक्त ने पहले गड़ौरा मिल में किसानों एवं मिल कर्मचारियों का पुराना बकाया होने के कारण गन्ना देने से हाथ खड़ा कर दिया। वहीं गन्ना आयुक्त ने चार चीनी मिलों में गन्ना आवंटित करने के बाद समय से इंडेंट जारी करने का निर्देश दिया है। ताकि गन्ने की तौल में किसानों को दिक्कतों का सामना न करना पड़े। जिला गन्ना अधिकारी ओमप्रकाश सिंह यादव ने बताया कि महराजगंज के किसानों का गन्ना इस बार 40 क्रय केन्द्रों पर तौला जा रहा है।

महराजगंज जिले में करीब 28 हजार किसानों ने इस बार 16459 हेक्टेयर में गन्ना खेती की है। चालू पेराई सीजन में गन्ने की तौल को लेकर गन्ना आयुक्त ने मिलवार केन्द्रों का आवंटन किया है। इस सत्र में किसानों का गन्ना सिसवा, हाटा, रामकोला, पिपराइच चीनी मिल द्वारा खरीदा जा रहा है। सिसवा मिल द्वारा सिन्दुरिया, मिठौरा, बरवा रतनपुर, बेलवा घाट, सिसवा मिल गेट, घुघली मिल गेट पर गन्ना तौला जा रहा है। इसी प्रकार हाटा मिल द्वारा गड़ौरा मिल गेट, बैठवलिया, पिपराइच मिल द्वारा बढैया, जयश्री, रामकोला मिल द्वारा डोमा प्रथम, बजही-बजहा, पिपराकाजी प्रथम व द्वितीय, लेदी, मिश्रौलिया प्रथम व द्वितीय क्रय केन्द्र पर किसानों का गन्ना तौलने की तैयारी किया जा रहा है। लेकिन दूसरे जिले की चीनी मिलों ने अभी तक तमाम किसानों को इंडेंट जारी नहीं किया है। ऐसे में गन्ना आयुक्त से सख्ती बरतते हुए गन्ने की तौल के लिए इंडेंट जारी करने का निर्देश दिया है।

पिपराइच मिल सबसे अधिक इंडेंट जारी करेगा

गन्ना आयुक्त ने महराजगंज के किसानों का जो गन्ना आवंटित किया है। उममें किसानों के गन्ना मूल्य भुगतान का पूरा ख्याल रखा है। जिस मिल का भुगतान के मामले में रिकार्ड अच्छा है। उस मिल को गन्ना आयुक्त ने सबसे अधिक गन्ना आवंटन किया है। गन्ना आयुक्त ने पिपराइच मिल को सबसे अधिक एक करोड़ 27 लाख कुन्तल गन्ना आवंटन किया है। ऐसे में पिपराइच मिल सबसे अधिक इंडेंट जारी किया जाएगा। इसी प्रकार सिसवा मिल को 64 लाख, हाटा को 8 लाख एवं रामकोला मिल को 9 लाख कुन्तल गन्ना आवंटन किया है।

मिलों को 14 दिन के अंदर भुगतान करना होगा

गन्ना आयुक्त ने समय से गन्ना मूल्य भुगतान कराने के लिए शुरुआती दौर में ही मिलों पर दबाव बना दिया है। आयुक्त ने गन्ने की तौल के 14 दिन के अंदर चीनी मिलों को हर हाल में भुगतान करने का निर्देश दिया है।

गन्ने की तौल को लेकर किसानों की सुविधाओं का पूरा ख्याल रखा गया है। गन्ना आयुक्त ने गन्ने का आवंटन करते हुए समय से इंडेंट जारी करने का निर्देश दिया है। इस बार महराजगंज के किसानों का गन्ना चार चीनी मिलें खरीदेंगी।

ओमप्रकाश सिंह यादव-जिला गन्ना अधिकारी

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें