DA Image
15 जुलाई, 2020|1:15|IST

अगली स्टोरी

इंडो-नेपाल बार्डर पर कमिश्‍नर ने की कोरोना जांच केंद्र की पड़ताल: VIDEO

कोरोना की रोकथाम और बचाव के इंतजाम देखने मंगलवार को कमिश्‍नर जयंत नार्लिकर और डीआइजी राजेश डी मोडक सोनौली स्थित इंडो-नेपाल बार्डर पर पहुंचे। उन्‍होंने वहां लगी थर्मल स्‍कैनिंग मशीन का जायजा लिया। पांच फीट की दूरी से ही कोरोना संदिग्‍ध को पहचान लेने वाली इस मशीन से बार्डर पर हर आने वाले शख्‍स की जांच की जा रही है। कमिश्‍नर ने निर्देश दिया कि बिना जांच कराए कोई भी शख्‍स देश की सीमा में प्रवेश नहीं करना चाहिए।  

 

उन्‍होंने कहा कि कोरोना जांच और इलाज में संसाधनों की कमी नहीं होने दी जाएगी। इस दौरान डीएम डॉ उज्ज्वल कुमार, एसपी रोहित सिंह सजवान, सीडीओ पवन अग्रवाल, सीएमओ डॉ एके श्रीवास्तव, एडीएम कुंज बिहारी अग्रवाल, एसडीएम नौतनवा जसधीर सिंह, सीओ राजू कुमार साव, कोरोना के नोडल अफसर डॉ आईए अंसारी आदि मौजूद रहे। 

लोगों को जागरूक किया
कमिश्नर और डीआईजी ने लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि अब जरूरत यह है कि लोग एक-दूसरे को कोरोना को लेकर खुद जागरूक करें। बताएं कि अनावश्यक रूप से भीड़भाड़ में जाने से परहेज करें। किसी से भी बातचीत करना हो तो कम से कम एक मीटर की दूरी बनाए रहें। हाथ को साबुन से बीस सेकेंड तक अवश्य धोएं। जरूरत हो तो मास्क भी लगाएं। अगर किसी को सर्दी-खांसी, जुखाम है तो वह खुद ही लोगों से दूरी बनाए। अपनी जांच कराए। मिल जुल कर कोरोना की महामारी को दूर भगाया जाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:commissioner checked corona investigation center at indo nepal border in mahrajganj