DA Image
15 अगस्त, 2020|3:39|IST

अगली स्टोरी

कोरोना संक्रमण के चलते रतनपुरवा में ‘नजरबंद हुई 31 सौ की आबादी

कोरोना संक्रमण के चलते रतनपुरवा में ‘नजरबंद हुई 31 सौ की आबादी

जिले में कोरोना का पांचवा हॉटस्पॉट बनने के चलते पनियरा क्षेत्र के रतनपुरवा गांव में 3118 लोगों की जिंदगी घर के अंदर नजरबंद बंद हो गई है। अघोषित कर्फ्यू जैसा नजारा है। गांव में केवल पुलिस, स्वास्थ्य विभाग व सफाई करने वाले ही दिख रहे हैं। संक्रमण के खौफ के चलते लोग खुद को घरों में कैद कर लिए हैं। सभी घरों के दरवाजे बंद हैं। बाहर गांव की गलियों व घरों को सैनेटाइज किया गया है। दिल्ली से रतनपुरवा गांव में आए युवक में कोरोना का संक्रमण मिलने के बाद जिला प्रशासन ने गांव को सील कर दिया है। किसी को गांव से न तो बाहर निकलने की अनुमति दी जा रही है और ना ही अंदर आने की। युद्ध स्तर पर गांव की सभी गली, नाली व सम्पर्क मार्ग को सोडियम हाइपो क्नोराइड दवा से सैनेटाइज कर दिया गया है। पर, गांव सील होने की वजह से अब लोगों को पाबंदियों से होने वाली दुश्वारियों का एहसास हो रहा है।

सब्जी, दवा व जरूरी सामान घर-घर पहुंचाएगी पुलिस

रतनपुरवा गांव को सील करने के बाद जरूरी सामानों की होम डिलिवरी की व्यवस्था पनियरा पुलिस ने अपने हाथ में ले लिया है। गांव में पचास पुलिस कर्मी व तीन सब इंस्पेक्टर तैनात हैं। थानाध्यक्ष दिलीप शुक्ल ने बताया कि सब्जी, दवा, किराना के सामानों की आपूर्ति के लिए चार ठेला व टेम्पो का प्रबंध किया गया है। गांव के जिन लोगों को जरूरी सामानों की जरूरत होगी। वह गांव में तैनात पुलिस कर्मियों को सूचना देंगे। पुलिस कर्मी वह सामान मंगा कर आपूर्ति सुनिश्चित कराएंगे। सेक्रेटरी ऋषि राज पटेल ने बताया कि रतनपुरवा गांव में सब्जी व किराना की चार-चार दुकान व एक मेडिकल स्टोर है। यह बंद है।

दस टोला के लोगों की हुई थर्मल स्क्रीनिंग व सैम्पलिंग

पनियरा क्षेत्र के रतनपुरवा गांव चौदह टोला में बसा है। कोरोना का केस मिलने के बाद दो सुपरवाइजर के नेतृत्व में पन्द्रह स्वास्थ्य कर्मियों की पांच टीम एक किमी के दायरे वाले दस टोला के बाशिंदों की थर्मल स्क्रीनिंग किए हैं। सैम्पल भी लिया गया है। इस दौरान चार लोग ऐसे मिले हैं जिनको खांसी व बुखार की शिकायत है। इसके अलावा आशा कार्यकत्रियों की टीम घर घर सर्वे शुरू कर ट्रैवल हिस्ट्री ढूंढने के लिए यह पता लगा रही हैं कि घर का कोई सदस्य बाहर तो नहीं गया था। संक्रमित युवक के सम्पर्क में तो नहीं आया था। इसके अलावा आशा कार्यकत्री यह भी पता कर रही हैं कि घर में कोई सर्दी-जुखाम, बुखार से पीड़ित तो नहीं है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:A population of 31 hundred was detained in Ratanpurwa due to corona infection