Yogi angry - सेना के प्रस्तावों में देरी पर योगी नाराज, मुख्य सचिव को दिए निर्देश DA Image
10 दिसंबर, 2019|10:49|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेना के प्रस्तावों में देरी पर योगी नाराज, मुख्य सचिव को दिए निर्देश

offer  chief minister  angry

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को लोकभवन में आयोजित सिविल सैन्य संपर्क सम्मेलन की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि समस्याओं का समाधान समयबद्ध ढंग से किया जाना चाहिए। समस्याओं के लंबित रहने से संबंधित परियोजनाओं की लागत बढ़ जाती है। मुख्यमंत्री ने सिविल और सैन्य अधिकारियों द्वारा वार्ता कर विभिन्न मुद्दों पर सहमति बनाने का प्रयास किया।
मुख्यमंत्री ने सहारनपुर स्थित आसन फील्ड फायरिंग में 30 वर्ष के लिए फायरिंग की अनुमति का प्रस्ताव राज्य सरकार द्वारा एक महीने के अंदर केंद्र सरकार को प्रेषित करना  निर्देश दिया। उन्होंने राज्य सरकार की तरफ से देरी होने पर नाराजगी जाहिर की। उन्होंने मुख्य सचिव को निर्देश दिया कि वे अधिकारियों की एक सप्ताह के अंदर जवाबदेही तय करें। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्व विभाग आवश्यकतानुसार भूमि सेना को जल्द से जल्द हस्तांतरित करे। सीएम ने जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल से कैंट क्षेत्र में फैली गंदगी और सफाई पर कहा कि काम किया जाना चाहिए।
भूतपूर्व सैनिकों को समेकित सुविधाओं के लिए भूमि उपलब्ध कराये जाने पर भी मुख्यमंत्री ने दिशा-निर्देश दिए। इसके अलावा जिन जिलों में भूतपूर्व सैनिकों की चिकित्सा सुविधा को लेकर ईसीएचएस पॉली क्लीनिक का निर्माण होना है उसे लेकर भी सेना को जल्द ही भूमि उपलब्ध कराया जाए। 
मुख्यमंत्री ने राज्य सरकार की सेवाओं में भूतपूर्व सैनिकों को समूह-ग के पदों पर अनुमन्य 5 प्रतिशत आरक्षण किए जाने की बात की। उन्होंने कहा कि भूतपूर्व सैनिकों को प्रदेश के मेडिकल कॉलेज आदि जगहों पर फैकल्टी के तौर पर रखा जा सकता है।
मुख्यमंत्री ने हमले में मृतक आश्रितों को राज्य सरकार की सेवाओं में डेथ इन हार्नेस स्कीम के अंतर्गत सेवायोजित करने को लेकर भी निर्देश जारी किए। उन्होंने प्रस्ताव भेजने में हो रही देरी पर नाराजगी जाहिर की।
इसके अलावा वायु सेना स्टेशन बक्शी का तालाब की भूमि का नामांतरण किए जाने को लेकर अधिकारियों को निर्देश दिया। वायु सेना स्टेशन मेमौरा का राजस्व अभिलेखों में नामांतरण को लेकर भी निर्देश दिया। साथ ही लखनऊ के गोमती नगर में जमीन के कब्जे को लेकर राज्य सरकार और सेना के बीच हाईकोर्ट में चल रहे विवाद पर राज्य सरकार की तरफ से भेजे जाने वाले प्रस्ताव को जल्द भेजने का निर्देश दिया।
योगी ने कहा कि 15 अगस्त को प्रदेश में होने जा रहे है वृक्षारोपण कार्यक्रम में भी सेना की सहभागिता होगी, जिसके तहत लखनऊ में सेना तीन लाख पौधे लगाएगी। ये पौधे वन विभाग सेना को मुहैया कराएगा। सम्मेलन में जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल परवेश पुरी, मुख्य सचिव अनूप चंद्र पाण्डेय तथा सेना व शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Yogi angry