DA Image
29 फरवरी, 2020|4:18|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बहराइचः झोलाछाप डॉक्टर के इंजेक्शन से मासूम की मौत

बुखार और निमोनिया से पीड़ित एक मासूम को झोला छाप डॉक्टर ने इंजेक्शन लगा दिया। थोड़ी देर बाद मासूम की मौत हो गई। पीड़ित पिता ने डॉक्टर पर लापरवाही से इलाज करने का आरोप लगाया है। कोतवाल नानपारा ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।
लखीमपुर जिले के खैराती पुरवा ईसानगर निवासी पति राम का 3 माह का पुत्र कृष्णा को बुखार हुआ था। वह निमोनिया से पीड़ित था। परिवार वाले उसका स्थानीय स्तर पर इलाज करवा रहे थे। शुक्रवार की सुबह हालत बिगड़ने पर परिवारीजन उसे एक झोलाछाप डॉक्टर के पास लेकर गए, उसने एक इंजेक्शन लगाया। थोड़ी देर बाद मासूम की मौत हो गई। पीड़ित ने कोतवाली नानपारा पुलिस को सूचना दी। कोतवाल नानपारा ने मौके पर पहुंचकर लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 
कोतवाल संतोष कुमार सिंह ने बताया कि शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।