अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हरिहरप्रसादनगर व जोधाखेड़ा में नहीं आया पानी, पानी संकट से लोग बेहाल

- एक महीने से अधिक समय से कई गलियों में नहीं पानी ही नहीं पहुंचा- जल्द संकट दूर न किए जाने पर जोनल दफ्तर पर प्रदर्शन की दी चेतावनीलखनऊ। निज संवाददाताहरिहरप्रसादनगर व जोधाखेड़ा में पानी संकट दूर होने का नाम नहीं ले रहा है। जिस कारण हजारों लोग पानी के लिए दर-दर भटक रहे हैं। पार्षद से लेकर जलकल विभाग के दफ्तर के चक्कर काटने के बावजूद संकट जस का तस बरकरार है। लोगों ने चेतावनी दी है कि अगर जल्द समस्या का समाधान नहीं किया गया तो पार्षद व जलकल दफ्तर का घेराव कर प्रदर्शन करेंगे।हरिहरप्रसादनगर निवासी मुन्नू पांडेय, मुन्नी देवी, गोलू श्रीवास्तव, बांके व प्रिया श्रीवास्तव ने बताया कि मोहल्ले की पाइपलाइन डेढ़ महीने से सूखी पड़ी है। बूंद-बूंद पानी को लोग तरसने को मजबूर हैं। दूरदराज इलाकों में लगी सबमर्सिबल टंकियों से पानी लाना पड़ता है। जिससे बच्चों व महिलाओं को खासी दुश्वारियों का सामना करना पड़ रहा है। कई बार जलकल जोन-5 के दफ्तर जाकर पानी न आने की शिकायत भी दर्ज कराई जा चुकी है। लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है। उधर जोधाखेड़ा निवासी गुड्डू शर्मा, बबलू सिंह, रज्जन, संदीप, मोनू पाल, जितेंद्र पाल व शिब्बू का कहना है कि आए दिन पानी संकट से लोग आजिज आ चुके हैं। जब से गर्मी की शुरूआत हुई है तब से जलापूर्ति बाधित चल रही है। आरोप लगाया कि पार्षद भी लोगों के संकट को दूर करने को लेकर कतई गंभीर नहीं हैं। महापौर के इसी क्षेत्र से होने के बावजूद जलकल विभाग महकमा कुछ नहीं करता है। अगर जल्द समस्या दूर करने को लेकर कोई कार्रवाई नहीं जाती है तो लोग प्रदर्शन करने को मजबूर होंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:water crisis