DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मॉक पोल के बाद क्लियर नहीं ईवीएम तो गिने जाएंगे वीवी पैट के वोट

पीठासीन अधिकारी की भूल के कारण अगर ईवीएम में मॉक पोल के वोट हटाए नहीं गए होंगे तो ऐसी दशा में उस बूथ पर लगी वीवी पैट की पर्चियों की गिनती होगी।

प्रत्याशी और एजेंटो की बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वोटिंग के दिन कांट्रोल यूनिट की सत्यता जांचने के लिए किए गए मॉक पोल के दौरान डाले गए वोट भूलवश क्लियर नहीं किए गए। एजेंटो द्वारा डाले गए वोट कंट्रोल यूनिट में पड़े रह गए और आम वोटिंग शुरू हो गई। मतगणना के दौरान अगर ऐसी जानकारी सामने आती है तो फिर ऐसी दशा में उस बूथ पर वीवी पैट की पर्चियों की गिनती की जाएगी। वही वोट सही माने जाएंगे। कंट्रोल यूनिट से फिर वोट नहीं माने जाएंगे न गिने जाएंगे।

शुगर व बीपी वाले कर्मचारी नहीं बनेंगे एजेंट

ज़िला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि किसी बड़ी बीमार, शुगर व ब्लड प्रेशर (बीपी)की समस्या से ग्रस्त कर्मचारी को मतगणना एजेंट नहीं बनाया जाएगा। यही नहीं कोई एमएलए व एमएलसी, मेयर, ज़िला पंचायत अध्यक्ष, प्रधान, नगर निकाय या सुरक्षा प्राप्त व्यक्ति को मतगणना एजेंट नहीं बनाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:vvpat