DA Image
27 अक्तूबर, 2020|6:42|IST

अगली स्टोरी

हत्या प्रदेश के रूप में बदनाम हो रहा है उत्तर प्रदेश : अखिलेश

default image

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा राज में लोकतंत्र और संविधान दोनों का तिरस्कार हो रहा है। भाजपा के कुशासन का असली रंग लोग देख रहे है। छल प्रपंच के माहिर भाजपाइयों के झूठ का लबादा उतरने में अब देर नहीं लगेगी। प्रदेश में अपराधों की असाधारण वृद्धि से यह प्रदेश हत्या प्रदेश के रूप में बदनाम हो गया है।

अखिलेश यादव ने गुरुवार को जारी बयान में कहा कि हाथरस में पीड़िता के गांव जाने पर प्रशासन द्वारा एक तरफा पाबंदी लग गई है।

सपा कार्यकर्ताओं को रोका गया

सपा प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि समाजवादी पार्टी का एक प्रतिनिधिमण्डल पीड़िता के परिवारीजनों से मिलने उसके गांव बूलगढ़ी थाना चंदपा जा रहा था, उसको पुलिस ने बल पूर्वक रोक दिया। समाजवादी कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किया गया और समाजवादी नेताओं को चंदपा थाने में गिरफ्तार कर ले जाया गया। बस से जब उन्हें थाने ले जाया जा रहा था तब बस पर पत्थरबाजी कराई गई। प्रशासन निम्नस्तर पर उतर आया है।

पुलिस ने अलोकतांत्रिक तरीके से शांतिपूर्वक पीड़िता के गांव जा रहे समाजवादी पार्टी के पूर्व सांसद वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री रामजी लाल सुमन को भी इसी तरह रोका था। पीड़िता के पक्ष में कैण्डिल मार्च निकाल रही महिलाओं के साथ भी पुलिस का रवैया उत्पीड़नकारी रहा। नौजवानों के विरोध प्रदर्शन पर तो बर्बरता से लाठीचार्ज हुआ और कई छात्र-युवा नेता घायल हुए जो अपना इलाज करा रहे हैं। हाथरस में भाजपा सरकार ने सत्तापक्ष के नेताओं के लिए कोई पाबंदी नहीं लगाई है जबकि जनता और विपक्ष को धारा-144 के नाम पर रोका जा रहा है। मृतका के गांव और क्षेत्र में समाजवादी पार्टी के नेता एवं कार्यकर्ता कई दिनों से अघोषित बंदी बना के रखे गए हैं। भाजपा सरकार विपक्ष को कुचलने के घातक मन्सूबे से पेश आ रही है।

हाथरस में मृतका के परिजनों को शासन के आदेश पर प्रषासन ने दौड़ा दौड़ाकर मारा है। मुख्यमंत्री जी एक बेटी को गरिमापूर्ण जीवन तो दे नहीं सके उन्होंने उसकी सम्मानजनक अंतिम बिदाई भी छीन ली। रात्रि में रीति रिवाज के विपरीत दाह संस्कार और जलाने की जो प्रक्रिया अपनाई गई उससे अधिक शर्मनाक कोई बात नहीं हो सकती है। अब जनता भी ऐसे सत्ताधारियों को दौड़ा दौड़ाकर इंसाफ की चैखट तक खींच करके ले जाएगी।

बलरामपुर पीड़िता से मिले सपा नेता

अखिलेश यादव के निर्देश पर समाजवादी पार्टी बलरामपुर के जिलाध्यक्ष राम निवास मौर्या एवं पूर्व मंत्री डा. एस.पी. यादव के नेतृत्व में ग्राम पंचायत मझौली ब्लाक गैसड़ी तहसील तुलसीपुर में प्रतिनिधिमण्डल ने जाकर पीड़िता के परिवारीजनों से भेंट कर उन्हें सांत्वना दी कि उन्हें न्याय दिलाने के लिए समाजवादी पार्टी संघर्ष करेगी। समाजवादी पार्टी ने राज्य सरकार से पीड़िता के परिवार को 50 लाख रूपये की मदद, एक सदस्य को नौकरी तथा आवास दिए जाने की मांग की।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Uttar Pradesh is being maligned as murder state Akhilesh