अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इलाज में लापरवाही पर ब्रजराज हास्पिटल पर आठ लाख जुर्माना

लखनऊ। प्रमुख संवाददाता

इलाज में लापरवाही से गर्भवती महिला व दो शिशुओं की मौत हो गई। उपभोक्ता फोरम ने इसे गंभीरता से लिया है। फोरम के अध्यक्ष शिवदान यादव व सदस्य चंचल जैन ने तहसीनगंज चौराहा स्थित ब्रजराज हास्पिटल एण्ड सुपर स्पेशलिटी सेंटर के खिलाफ आठ लाख जुर्माना व नौ प्रतिशित ब्याज के साथ 25520 रुपए भुगतान का आदेश दिया है।

चौक के निवाजगंज स्थित कंघी टोला निवासी अमित वर्मा अपनी गर्भवती पत्नी अंजू वर्मा का तहसीनगंज चौराहा स्थित ब्रजराज हास्पिटल एण्ड सुपर स्पेशलिटी सेंटर में इलाज शुरू कराया। लगातार जांचें होते रही। गर्भ में दो शिशुओं की पुष्टि हुई। जांचों में जच्चा व बच्चा का स्वास्थ्य दुरुस्त बताया जाता रहा। 24 मार्च 2014 को पत्नी की तबीयत खराब होने पर उसने अस्पताल भर्ती कराया। एक बार फिर जांचे हुईं। उस समय भी सब कुछ सामान्य बताया गया और 28 अप्रैल को डिस्चार्ज कर दिया गया। अगले ही दिन 29 मार्च को रात 11 बजे अचानक तबीयत खराब हो गई। उल्टी व तेज बुखार शुरू हो गया। आनन-फानन में दोबारा अस्पताल में भर्ती कराया गया। 30 मार्च को आपरेशन करके शिशुओं को गर्भ से बाहर निकाला गया। उसमें एक शिशु की मौत हो गई। 31 मार्च को महिला की तबीयत ज्यादा खराब होने पर एसजीपीजीआई के लिए रेफर कर दिया। स्वास्थ्य ज्यादा खराब होने पर एसजीपीजीआई ने भर्ती करने से मना कर दिया। मजबूरन उसे ग्लोब अस्पताल में भर्ती कराया गया। लेकिन एक दिन बाद एक अप्रैल को उसकी मौत हो गई। साथ ही दूसरे शिशु की भी मौत हो गई। इस अस्पताल ने भी उससे एक लाख रुपए वसूल किया।

अमित ने दोनों अस्पतालों के खिलाफ इजाल में लापारवाही का आरोप लगाते हुए उपभोक्ता फोरम में मुकदमा कर दिया। अधिवक्ता सुबीर सरकार ने बहस करते हुए अस्पताल पर घोर लापरवाही का आरोप लगाया और 15 लाख रुपए जुर्माना की मांग की। फोरम के अध्यक्ष व सदस्य ने अस्पताल को दोषी ठहराते हुए चार सप्ताह में 8 लाख 25520 रुपए भुगतान का आदेश दिया। निर्धारित अवधि में भुगतान न होने पर 12 प्रतिशत ब्याज के साथ भुगतान का आदेश दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:upbhokta