DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी : स्कूली बच्चे अब आपदा प्रबंधन में मदद करेंगे

op singh

उत्तर प्रदेश के स्कूली बच्चे अब आपदा प्रबंधन, यातयात और अपराध नियंत्रण के मामलों में राज्य पुलिस की मदद करेंगे। सोमवार को इस बाबत राज्य के पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने स्टूडेंट पुलिस कैडेट प्रोग्राम (एसपीसी) की कार्यशाला का उद्घाटन किया।

जिले के नोडल अधिकारियों की इस एक दिवसीय कार्यशाला में केन्द्र सरकार के गृह मंत्रालय के निदेशक एस.शंकर, प्रदेश के माध्यमिक शिक्षा विभाग के विशेष सचिव विजय सिंह और बेसिक शिक्षा विभाग के नोडल अधिकारी आनंद कुमार सिंह शामिल हुए। पुलिस महानिदेशक श्री सिंह ने कार्यशाला को सम्बोधित करते हुए कहा कि स्टूडेंट कैडेट प्रोग्राम के तहत स्कूली छात्र-छात्राओं को कैडेट के रूप में आपदा प्रबंधन, यातायात और अपराध नियंत्रण आदि के पुलिस के कामकाज के बारे में प्रशिक्षित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आज के छात्र-छात्राओं को इस बाबत जानकारी देने पर कल वे सफल नागरिक के रूप में हमारा सहयोग करेंगे और देश व समाज की सेवा करेंगे। स्टूडेंट पुलिस कैडेट प्रोग्राम केरल में प्रयोग में लाया गया जिसकी सफलता को देखते हुए गृह मंत्रालय द्वारा इसे अन्य राज्यों में भी लागू करने के निर्देश दिये गये।  

राज्य मानिटरिंग कमेटी  का गठन
कार्यक्रम को सुचारु रूप से चलाने के लिए शासन स्तर पर प्रमुख सचिव गृह की अध्यक्षता में राज्य मानिटरिंग कमेटी गठित की गई है, जिसमें पुलिस महानिदेशक सदस्य हैं। राज्य नोडल अधिकारी इस समिति के सदस्य सचिव हैं। इस समय नोडल अधिकारी अमिताभ ठाकुर पुलिस महानिरीक्षक नागरिक सुरक्षा राज्य नोडल अधिकारी हैं। हर जिले में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जिला स्तरीय मानिटरिंग कमेटी गठित की गयी है। जिसमें जिले के पुलिस अधीक्षक, जिला विद्यालय निरीक्षक, बेसिक शिक्षा अधिकारी और पुलिस उपाधीक्षक स्तर के जिला स्तरीय पुलिस नोडल अधिकारी शामिल किये गये हैं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP: School children will now help in disaster management