UP: Rapti crosses red mark pouring water into several villages - यूपी : राप्ती ने पार किया लाल निशान, कई गांवों में घुसा पानी DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपी : राप्ती ने पार किया लाल निशान, कई गांवों में घुसा पानी

यूपी के बलरामपुर और श्रावस्ती जिले में राप्ती नदी रविवार को खतरे के निशान को पार कर गई। बलरामपुर नदी का जल स्तर लाल निशान से 29 सेमी. तो श्रावस्ती में 80 सेमी. ऊपर बह रही है। नदी प्रति घंटे दो सेमी. की रफ्तार से बढ़ रही है। नदी के तटवर्ती करीब तीन दर्जन से अधिक गांव बाढ़ के पानी से घिर गए हैं। एक दर्जन गांव ऐसे हैं जिनमें पानी घुस गया है। जल स्तर बढ़ने का सिलसिला न रुका तो सोमवार तक सैकड़ों गांव बाढ़ की चपेट में होंगे। 

करीब एक सप्ताह से हो रही बरसात के चलते पहाड़ी नाले पहले से ही उफान पर हैं। शनिवार को राप्ती नदी का जल स्तर बढ़ना शुरू हुआ जो रविवार सुबह तक खतरे के निशान को पार कर गया। सिसई घाट स्थित केन्द्रीय जलानुमान आयोग केन्द्र के मुताबिक शाम छह बजे तक नदी 104.90 मीटर पर बह रही थी। जो खतरे के निशान से 29 सेमी. ऊपर है। जिसका बढ़ना जारी था। सदर तहसील के हरिहरगंज, गौरा, ललिया, महराजगंज तराई, श्रीदत्तगंज क्षेत्र के करीब तीन दर्जन से अधिक गांव बाढ़ के पानी से घिर गए हैं।

सदर तहसील के चौकाकला, चौकाखुर्द, लालपुर फगुइया, पाठकपुरवा, गुलामपुरवा, जमालीजोत, कलंदरपुर, बेलवा सुल्तानजोत, कटरा शंकरनगर, भीखमपुर, लक्ष्मणपुर डिहवा, रामपुर आदि गांव में पानी घुस गया है। इन गांवों में जाने वाले रास्तों पर पानी का बहाव तेज होने से आवागमन प्रभावित है। कोड़री घाट पुल के पास सड़क का किनारा धंस गया है। जिससे कभी भी दुर्घटना हो सकती है।

बाढ़ पीडि़तों के मुताबिक प्रशासन की ओर से अभी तक नाव की व्यवस्था नहीं की गई है। सदर तहसीलदार रोहित कुमार मौर्य ने बताया कि काशीपुर, लौकहवा, सहिबानगर, दतरंगवा सहित करीब आधा दर्जन डिप पर नाव व नाविक लगा दिए गए हैं। हलका लेखपाल व ग्राम प्रधानों को निर्देश दिया गया है कि बाढ़ की सूचना तत्काल दें। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:UP: Rapti crosses red mark pouring water into several villages