अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उर्दू अरबी फारसी विवि में कल से दूसरी अन्तरराष्ट्रीय उर्दू कांफ्रेंस

-कांफ्रेंस में कई देशों के उर्दू विद्वान भाग लेंगे, मुशायरा और कवि सम्मेलन भी होगा-राज्यपाल नाईक और उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा को ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती सूफी संत अवार्ड से नवाजा जाएगा लखनऊ। निज संवाददाताख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती उर्दू अरबी फारसी विश्वविद्यालय में 17 फरवरी से दो दिवसीय अन्तरराष्ट्रीय उर्दू कांफ्रेंस का आयोजित होगी। इसका उदघाटन राज्यपाल राम नाइक करेंगे। इसमें पहली बार शुरू किए गए ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती सूफी संत अवार्ड से राज्यपाल और उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा को नवाजा जाएगा। साथ उर्दू के क्षेत्र में काम करने वाले पांच लोगों को विभिन्न अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा।प्रेस क्लब में पत्रकारों से वार्ता करते हुए विवि के कुलपति प्रो. माहरूख मिर्जा और मौलाना आजाद इंस्टीट्यूट ऑफ ह्यूमनिटीज, साइंस एण्ड टेक्नोलॉजी, महमूदाबाद के चेयरमैन डॉ. अम्मार रिजवी ने बताया कि 17 फरवरी को सुबह 10 बजे कांफ्रेंस का उदघाटन राज्यपाल करेंगे। इसकी अध्यक्षता नदवा के प्रधानाचार्य मौलाना सईदुर्रहमान आज़मी नदवी करेंगे। इमाम-ए-जुमा और प्रोफेसर मौलाना कल्बे जव्वाद बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। उन्होंने बताया कि कांफ्रेंस में जर्मनी से प्रो. आरिफ नक़वी, कनाडा से सहबा अली, लन्दन से मुर्तजा अली ग़ज़नवी सहित करीक एक दर्जन से अधिक देशों से उर्दू विद्वान भाग लेंगे। उन्होंने बताया कि मुशायरा और कवि सम्मेलन का उदघाटन शनिवार की शाम तीन बजे उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा करेंगे। -----------------------------------------विवि ने शुरू किया ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती सूफी संत अवार्ड ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती उर्दू अरबी फारसी विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. माहरूख मिर्जा ने बताया कि विवि ने महान सूफी संत के नाम पर अवार्ड शुरू करने का फैसला लिया है। उनके नाम पर स्थापित ख्वाजा मोईनुद्दीन चिश्ती सूफी संत अवार्ड से पहली बार राज्यपाल राम नाइक और उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा को सम्मानित किया जाएगा। ----------------------------------------------------------उर्दू को बढ़ाने में योगदान देने वाले पांच उर्दू विद्वानों को सम्मानित किया जाएगाकार्यक्रम के संयोजक प्रो. एस शफीफ अहमद अशरफी और समन्वयक अहमद इरफान अलीग ने बताया कि कांफ्रेंस में उर्दू को बढ़ाने में योगदान देने के लिए पांच विद्वानों को कृष्ण बिहारी नूर अवार्ड, प्रो. नैय्यर मसूद अवार्ड, आबिद सुहैल अवार्ड, डॉ. मलिकजादा मंजूर अहमद अवार्ड और डॉ. अनवर जलालपुरी अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Universidade uruguaia urdu árabe na conferência internacional de urdu do amanhã