अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रा्ज्यपाल ने दो अध्यादेशों को मंजूरी दी

विशेष संवाददाता - राज्य मुख्यालय

राज्यपाल राम नाईक ने राज्य सरकार द्वारा भेजे गए दो अध्यादेशों उत्तर प्रदेश आबकारी (संशोधन) अध्यादेश 2018 और उत्तर प्रदेश क्षेत्र पंचायत तथा जिला पंचायत (संशोधन) अध्यादेश 2018 को अपनी मंजूरी दे दी है।

मौजूदा समय में राज्य विधान मण्डल सत्र में न होने के कारण एवं विषय की तात्कालिकता को देखते हुए राज्यपाल ने कैबिनेट के प्रस्ताव को विधिक परीक्षणोपरान्त अपनी स्वीकृति प्रदान की है। उत्तर प्रदेश आबकारी (संशोधन) अध्यादेश 2018 द्वारा पूर्व में अधिनियमित संयुक्त प्रान्त आबकारी अधिनियम 1910 की धारा 24-क की उपधारा (1) के खण्ड (घ) को नये प्राविधान के साथ प्रतिस्थापित किया गया है तथा धारा 24-क बढ़ाई गई है।

पूर्व में विद्यमान अधिनियम की धारा 24-क के प्राविधान उत्तर प्रदेश आबकारी (विदेशी मदिरा की माडल शाप के लिए लाइसेंसों की व्यवस्था) नियमावली 2003 के प्रतिकूल थे। यह नियमावली 8 सितम्बर, 2003 से लागू है। उत्तर प्रदेश क्षेत्र पंचायत तथा जिला पंचायत (संशोधन) अध्यादेश 2018 द्वारा पूर्व में अधिनियमित उत्तर प्रदेश क्षेत्र पंचायत तथा जिला पंचायत अधिनियम 1961 की धारा 197 तथा पूर्व प्रकट होने वाले शीर्षक ‘वधशाला का लोप कर दिया गया है तथा धारा 198 में कतिपय संशोधन किया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:two ordinance accept by governor