DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

 नवाबों के समय स्थापित हुए इस प्राचीन मंदिर में होगी विशेष हनुमान मंगला आरती 

शिवजी के रुद्रावतार हनुमान जी की पूजा के लिए राजधानी लखनऊ के मंदिरों में तैयारी अंतिम चरणों में पहुंच चुकी है। 21 मई को पहला बड़ा मंगल है। इसके लिए नवाबों के समय, वर्ष 1881 में स्थापित हुए प्राचीन अमीनाबाद मंदिर में भी तैयारियां जोरों पर हैं। यहां सजावट और भक्तों की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं।

महावीर जी मंदिर ट्रस्ट अमीनाबाद हनुमान मंदिर, घंटाघर पार्क के प्रधान ट्रस्टी अशोक पाठक, प्रधान पुजारी कृष्णकांत पाठक, महामंत्री विजय पाठक ने बताया कि अमीनाबाद हनुमान मंदिर का इतिहास नवाबों के समय का है। इस मंदिर से ही गंगा-जमुनी तहजीब की शुरुआत मानी जाती है। पदाधिकारियों ने कहा कि देवताओं में भगवान शिव के बाद बजरंगी बली ही ऐसे देवता हैं जो अपने भक्तों पर अतिशीघ्र प्रसन्न होते हैं। छोटे-छोटे उपायों व मंत्रों से हनुमान जी प्रसन्न हो जाते हैं। 

सच्चे मन से श्रद्धापूर्वक की गई पूजा कभी बेकार नहीं जाती है। पदाधिकारियों ने बताया कि ट्रस्ट में एक हजार सदस्य जुड़े हुए हैं। इस बार मुख्य रूप से चारों बड़े मंगल को भंडारा होगा। प्रत्येक बड़े मंगल पर मंगला आरती व हनुमान जी का जलाभिषेक और श्रृंगार इत्र, फूल व चंदन से किया जाएगा। मंदिर और भक्तों की सुरक्षा की दृष्टि से यहां नए कैमरे लगाए गए हैं। भक्तों को गर्मी से राहत देने के लिए ठंडे पानी की मशीन भी लगवाई गई है।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:This ancient temple which was established during the Nawabs will be in the special Hanuman Mangala Aarti