DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पीड़िता की मां को भी गैंगरेप के बाद मारा गया था

पूर्व विधायक, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष समेत 15 लोगों पर बहन के साथ गैंगरेप का आरोप लगाने वाली विधवा महिला की मां से भी 21 वर्ष पहले सामूहिक दुराचार किया गया था। आरोपियों ने उनकी भी हत्या कर दी थी। बाद में पीड़िता के पिता और भाई की भी हत्या कर दी गई थी। पिछले साल छोटी बहन ने भी गैंगरेप के बाद खुदकुशी की थी। बहन से गैंगरेप और आत्महत्या के लिए उकसाने वालों को सलाखों के पीछे भेजने के लिए ही उसने सीएम आवास के बाहर आत्महत्या का प्रयास भी किया था। इसी के बाद हरकत शासन-प्रशासन हरकत में आया और पूर्व विधायक, भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष समेत 15 लोगों पर पुलिस ने केस दर्ज किया। 
हालांकि मुकदमा दर्ज करने के बाद भी पुलिस मुंह खोलने को तैयार नहीं है। बेटियों के साथ आत्महत्या की कोशिश करने वाली विधवा महिला का आरोप है कि करीब 21 वर्ष पहले वर्ष 1997 में उसकी मां की गैंगरेप के बाद घर के आंगन में जिंदा जला दिया गया था। आरोप है कि मां की मौत के मामले में इंसाफ मांगने के लिए अधिकारियों की चौखट पर नाक रगड़ रहे उसके पिता की भी एक साल बाद वर्ष 1998 में हत्या करा दी गई। हत्याओं का यह सिलसिला यही नहीं रुका। पीड़िता के मुताबिक, 10 जून वर्ष 2017 में उसके भाई की जहर देकर हत्या कर दी गई थी। छह महीने बाद दिसंबर '17 में ही छोटी बहन से भी गैंगरेप किया गया। शर्मिंदगी में 10 जून वर्ष 2018 को छोटी बहन ने भी आत्महत्या कर ली। बाद में कथित सुसाइड नोट मिलने के बाद ही महिला ने दिवंगत बहन को इंसाफ के लिए पुलिस और प्रशासन के चक्कर काटने शुरू किए। इस मामले में कई बार जिला प्रशासन और पुलिस से शिकायत की लेकिन उसे न्याय नहीं मिला। 

 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The victim mother was also killed after the gangrap