DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हाईटेक टाउनशिप में फंसी जमीनें अब खाली होंगी, यूपी सरकार किसानों को बड़ी राहत देने की तैयारी में

farmers

राज्य सरकार हाईटेक टाउनशिप योजना में किसानों की फंसी 7000 एकड़ से अधिक जमीन के मामले में बड़ी राहत देने जा रही है। 

योजना के काम न आने वाली जमीनों को किसानों को बेचने या अपने इस्तेमाल में लाने का अधिकार देने जा रही है। आवास बंधु के प्रस्ताव को जल्द ही मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित हाई पावर कमेटी (एचपीसी) की बैठक में रखने की तैयारी है। इससे मुख्य रूप से गाजियाबाद, कानपुर, लखऩऊ, प्रयागराज, आगरा, मथुरा, वाराणसी व बुलंदशहर के किसानों को राहत मिल सकती है।

फेल हो गई योजना: उत्तर प्रदेश में जरूरतमंदों को मकान व जमीन उपलब्ध कराने के लिए वर्ष 2005 में तत्कालीन मायावती सरकार में हाईटेक टाउनशिप योजना शुरू की गई। इस योजना में न्यूनतम 500 एकड़ जमीन लेने की अनिवार्यता की गई। 

प्रदेश के आठ शहरों में 11 कंपनियों ने हाईटेक टाउनशिप योजना में लाइसेंस लिया, लेकिन यह योजना लाभदायक साबित न होने पर बिल्डर इससे मुंह मोड़ने लगे। 

इसके चलते वर्ष 2010 में तत्कालीन अखिलेश सरकार ने योजना बंद कर दी। कैबिनेट ने फैसला किया इस योजना में जितने भी बिल्डरों ने लाइसेंस लिया है, सिर्फ वही काम करेंगे और नए लाइसेंस नहीं दिए जाएंगे। 

एग्रीमेंट पर ली गई जमीन
हाईटेक टाउनशिप योजना में बिल्डरों ने किसानों से एग्रीमेंट के आधार पर जमीनें ली। बिल्डरों ने कुछ जमीनों का पैसा तो किसानों को दिया और कुछ के लिए यह करार हुआ कि योजना जैसे-जैसे आगे बढ़ेगी किसानों को पैसा दिया जाता रहेगा। मगर योजना परवान न चढ़ने से किसानों की जमीनें फंस गई। इसीलिए विकास प्राधिकरणों से किसानों ने इन जमीनों को छोड़ने का अनुरोध किया। इसके आधार पर ही आवास बंधु से प्रस्ताव भेजा गया है।

योजनाएं शुरू नहीं हुईं
प्रस्ताव के मुताबिक हाईटेक टाउनशिप योजना में जमीन लेने के बाद भी लखनऊ, गाजियाबाद व कानपुर जैसे शहरों को छोड़कर अन्य शहरों में बिल्डरों ने योजना ही नहीं शुरू की। लखनऊ जैसे शहर में तीन बिल्डरों ने लाइसेंस लिया, लेकिन दो ने काम शुरू किया और तीसरे ने छोड़ दिया। 

  टाउनशिप में जमीनें
 शहर                                 एकड़
गाजियाबाद में दो योजनाएं    8803.7 
कानपुर                              1800
लखनऊ में तीन योजनाएं       10949
आगरा में दो योजनाएं             3213
प्रयागराज                           1535.12
मथुरा-वृंदावन                      1500
वाराणसी                              1577.85
बुलंदशहर में दो योजनाएं         6105.19 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The land that is now in hightech township will be empty the UP government is preparing to give great relief to the farmers