DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिना रजिस्ट्री फ्लैटों पर कब्जा देने वाले बिल्डरों पर होगी कार्रवाई

बिल्डरों पर नकेल

-अकेले गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) में सरकार को हुआ 475 करोड़ राजस्व का नुकसान

-रजिस्ट्री नहीं करने से ग्राहक भी होते हैं परेशान

-ऐसे बिल्डरों के खिलाफ दर्ज कराया जाएगा एफआईआर

प्रदेश सरकार अब उन बिल्डरों पर कार्रवाई करेगी जो बगैर रजिस्ट्री कराए ही ग्राहकों को फ्लैट व मकानों पर कब्जा दे रहे हैं। ऐसे बिल्डरों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का फैसला हुआ है। बिल्डरों द्वारा बगैर रजिस्ट्री के ही कब्जा देने से सरकार को राजस्व की भारी हानि हो रही है।

प्रदेश सरकार को यह सूचनाएं लगातार मिल रही थी कि बिल्डर अपने प्रोजेक्ट के फ्लैटों की बगैर रजिस्ट्री कराए ही ग्राहकों को कब्जा दे रहे हैं। अकेले गौतमबुद्ध नगर में 16,197 फ्लैटों का आवंटन बिना रजिस्ट्री कराए ही खरीदारों को दे दिया गया। इससे सरकार के खजाने में आने वाला करीब 475 करोड़ रुपये का राजस्व नहीं आ सका। इस संबंध में मिली शिकायतों की जांच के बाद जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर ने एफआईआर दर्ज कराने की अनुशंसा की थी। गौतम बुद्ध नगर जिले के लिए वर्ष 2017-18 में राजस्व लक्ष्य 2522 करोड़ रुपये रखा गया है जिसमे से अब तक महज 1394.23 करोड़ रुपये की राजस्व प्राप्ति ही हो सकी है। इस मामले में निबंधन विभाग द्वारा बिल्डरों को नोटिस भी दी गई थी, इसके बाद भी रजिस्ट्री पर बिल्डरों ने ध्यान नहीं दिया।

आम जनता की भलाई के लिए यह कदम--नंद गोपाल गुप्ता नंदी

प्रदेश के स्टांप एवं नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल नंदी ने कहा है कि ऐसी कई शिकायतें उन्हें मिली हैं। बिल्डर की तरफ से रजिस्ट्री नहीं कराए जाने से खरीदारों को परेशानी होने के साथ ही सरकार को राजस्व का नुकसान उठाना पड़ रहा है। आम जनता की भलाई के लिए यह सख्त कदम उठाने का फैसला लिया गया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The builders who give possession in flats without Registry will take action