ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश लखनऊथार चालक की तीन दिन बाद हुई पहचान, गिरफ्त से अभी भी दूर

थार चालक की तीन दिन बाद हुई पहचान, गिरफ्त से अभी भी दूर

बुधवार देर रात पेपर मिल कॉलोनी तिराहे के पास कुचलने से दो मजदूरों की हुई

थार चालक की तीन दिन बाद हुई पहचान, गिरफ्त से अभी भी दूर
Newswrapहिन्दुस्तान टीम,लखनऊSat, 26 Nov 2022 11:00 PM
ऐप पर पढ़ें

बुधवार देर रात पेपर मिल कॉलोनी तिराहे के पास कुचलने से दो मजदूरों की हुई थी मौत

लखनऊ। संवाददाता

पेपर मिल कॉलोनी तिराहे के पास दो मजदूरों को थार जीप से कुचलने वाले चालक की पहचान महानगर निवासी नमन तोमर के रूप में हुई है। घटना के तीन बाद महानगर पुलिस ने थार चालक की पहचान तो कर ली पर अभी भी वह गिरफ्त से दूर है।

निशातगंज स्थित पेपर मिल कॉलोनी तिराहे के पास स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत सड़क निर्माण का कार्य चल रहा था। बुधवार देर रात निशातगंज आठवीं गली निवासी सुरेन्द्र कुमार और रायबरेली के लालगंज निवासी संदीप को रौंद दिया था। दोनों मजदूरों की इलाज के दौरान मौत हो गई थी। आरोपित पुराना महानगर इलाके में गाड़ी छोड़कर मौके से भाग निकला था। पुलिस ने गाड़ी को तो कब्जे में ले लिया था पर आरोपित चालक के बारे में कुछ पता नहीं कर कर सकी थी। घटना से आक्रोशित सुरेन्द्र के परिजनों ने निशातंगज चौकी के सामने शव रखकर प्रदर्शन किया था। घटना के तीन दिन बाद पुलिस अब थार चालक की पहचान कर पाई है। इंस्पेक्टर महानगर केके तिवारी का कहना है थार चालक की पहचान महानगर निवासी नमन तोमर के रूप में हुई है। वह अपने नाना के घर रहता है। घर से कुछ दूरी पर गाड़ी छोड़कर भाग गया था। आरोपित नमन की गिरफ्तारी के लिए जगह- जगह दबिश दी जा रही है। पता किया जा रहा है कि घटना के समय चालक गाड़ी में अकेला था कि गाड़ी में और भी लोग सवार थे।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।