class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नैमिष तीर्थ के विकास के लिए केंद्र व राज्य सरकार से करूंगा बात: राज्यपाल

दुनिया भर में मशहूर नैमिष तीर्थ का होना चाहिए विकास: राज्यपाल

सांस्कृतिक कार्यक्रम

नैमिषारण्य तीर्थ में राज्यपाल ने संस्कृति नैमिषेय की वेबसाइट का किया शुभारंभ

राज्यपाल का क्षेत्र के लोगों का आह्वान- आप क्षेत्र के विकास का खाका खींचकर मुझे बताइए, मैं केंद्र व राज्य सरकारों तक आपकी बात पहुंचाऊंगा

फोटो- 06

कैप्शन- नैमिषेय संस्कृति वेबसाइट का गुरुवार को शुभारम्भ करते राज्यपाल राम नाईक, इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी व वरिष्ठ कलाकार सोनल मान सिंह भी रहीं मौजूद

नैमिषारण्य तीर्थ की महिमा देश-दुनिया में विख्यात है। यहां पर हजारों लोग रोजाना दर्शन-पूजन के लिए आते हैं। क्षेत्र का पर्याप्त विकास न होने से ऐसे भक्तों को तमाम तरह की समस्याएं झेलनी पड़ती हैं। यह विचार राज्यपाल राम नाईक ने गुरुवार को नैमिषारण्य में संस्कृति नैमिषेय की वेबसाइट के शुभारंभ के अवसर पर व्यक्त किया। उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि आप सभी लोग नैमिष तीर्थ के विकास का खाका खींचिए, मैं राज्य व केन्द्र की सरकारों तक आपकी बात पहुंचाने का कार्य करूंगा।

राज्यपाल ने कहा कि दूसरे प्रांतों से आने वाले भक्तों को नैमिष तीर्थ में तमाम तरह की समस्याएं झेलनी पड़ती हैं। बसों के सहारे आने वाले श्रद्धालु तमाम मंदिरों और दूसरे तीर्थ स्थलों तक पहुंचने में परेशानी उठाते हैं। यह हालात बदलने की जरूरत है। श्री नाईक ने कहा कि नैमिष तीर्थ में पर्यटन को बढ़ावा देने और विकास कार्यों को तेज कराने को लेकर नैमिषेय संस्कृति की वेबसाइट का शुभारंभ हुआ है। हमें उम्मीद है कि इस वेबसाइट के जरिए दुनियाभर के लोग नैमिष तीर्थ और भारत की संस्कृति को बेहतर ढंग से जान सकेंगे। एक क्लिक पर पूरी दुनिया भारत की संस्कृति व लोक कलाओं से परिचित होगी।

राज्यपाल ने कहा कि क्षेत्र में विकास के कार्य कराए जा रहे हैं। जिले की प्रभारी मंत्री रीता बहुगुणा जोशी के प्रयासों से 90 करोड़ के विकास कार्य हो रहे हैं। अगले वर्ष इससे क्षेत्र के दिन बहुरे कि नहीं, इसकी समीक्षा की जाएगी। राज्यपाल श्री नाईक भारतीय संस्कृति व लोक कलाओं को बढ़ावा देने के लिए संस्कार भारती की ओर से आयोजित नैमिषेय शंखनाद कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे थे। कार्यक्रम में प्रभारी मंत्री रीता बहुगुणा जोशी, आरएसएस के प्रदेश बौद्धिक प्रमुख स्वांत रंजन, संस्कार भारती के बाबा योगेन्द्र, वरिष्ठ कलाकार सोनल मानसिंह, गायिका मालिनी अवस्थी, विधायक रामकृष्ण भार्गव सहित तमाम गण्यमान्य लोग मौजूद रहे।

इनसेट--------------------

नैमिष-मिश्रिख तीर्थ का होगा समुचित विकास: रीता

सीतापुर। पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि नैमिषारण्य व मिश्रिख तीर्थ का समुचित विकास कराया जाएगा। सरकार संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए सरकार हर प्रयास कर रही है। जगह-जगह महोत्सव के आयोजन किए जा रहे हैं, जिससे भारतीय संस्कृति व भारतीय लोक कलाओं को पहचान मिलेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार संस्कृति व लोक कलाओं के विकास के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि पर्यटन स्थलों के विकास से न केवल पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा, बल्कि संबंधित क्षेत्रों में रोजगार के अवसर भी पैदा होंगे। इस अवसर पर संस्कार भारती के बाबा योगेन्द्र ने कहा कि इस धरती से संस्कृति की एक नई अलख जगाई गई है, जिसे पूरे विश्व में पहुंचाया जाएगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Talk to the government for the development of Naimish shrine: Governor
बीते साल की तुलना में चार गुना अधिक हुई धान खरीदसात शहरों में लो-फ्लोर मिनी बस सेवा शुरू होगी