DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › लखनऊ › मायावती के इस्तीफे की ड्रामेबाजी में जनता झांसे में नहीं आएगी: स्वामी प्रसाद
लखनऊ

मायावती के इस्तीफे की ड्रामेबाजी में जनता झांसे में नहीं आएगी: स्वामी प्रसाद

हिन्दुस्तान टीम,लखनऊ
Mon, 24 Jul 2017 09:58 PM
मायावती के इस्तीफे की ड्रामेबाजी में जनता झांसे में नहीं आएगी: स्वामी प्रसाद

प्रमुख संवाददाता / राज्य मुख्यालयश्रम एवं सेवायोजन रोजगार मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने कहा कि बसपा प्रमुख ने राज्य सभा से इस्तीफा देकर ड्रामेबाजी की है। बावजूद इसके दलित मायावती के इस झांसे में नहीं आएंगे। उन्होंने कहा कि मायावती का इस्तीफा उनके मानसिक दिवालियापन का द्योतक है। बसपा प्रमुख अगर सच्ची दलितों और वंचितों की हितैषी होतीं तो अपने राज्यसभा के बचे कार्यकाल में राज्यसभा के मार्फत दलितों की समस्याएं उठाती रहतीं, लेकिन इस्तीफा देकर उन्होंने दलितों की आवाज उठाने का एक मंच खो दिया है। वे पलायनवादी साबित हुई हैं। उन्होंने कहा कि बसपा प्रमुख का साथ देने वाले सपा और कांग्रेस को तो जनता ने विधानसभा चुनाव में सबक सिखा दिया है। अब वह बसपा प्रमुख का साथ देकर अपनी विश्वसनीयता पूरी तरह से खो देंगे। उन्होंने कहा कि लोकसभा का चुनाव लड़ने से मायावती को हकीकत का पता चल जाएगी। केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में काम कर रही सरकार ने दलितों के हितों में जमीनी फैसले किए हैं। दलितों के हर वर्ग को लाभ देने की संजीदा कोशिश हो रही है।

संबंधित खबरें