DA Image
Saturday, November 27, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश लखनऊइटौंजा में 43 साल पुरानी लाइनों से हो रही सप्लाई

इटौंजा में 43 साल पुरानी लाइनों से हो रही सप्लाई

हिन्दुस्तान टीम,लखनऊNewswrap
Thu, 28 Oct 2021 07:55 PM
इटौंजा में 43 साल पुरानी लाइनों से हो रही सप्लाई

इटौंजा में 43 साल पुरानी टंकी और पाइप लाइनों से पानी की सप्लाई हो रही है। पुरानी होने के कारण ये लाइनें न सिर्फ जर्जर हैं, बल्कि जगह-जगह क्षतिग्रस्त भी हो चुकी हैं। इसके चलते मोहल्ले में दूषित पानी आपूर्ति हुई, जिसकी चपेट में करीब तीन दर्जन से अधिक उल्टी दस्त का शिकार बने। यह खुलासा गुरुवार को बीकेटी एसडीएम और इटौंजा नगर पंचायत के जिम्मेदारों के साथ हुई बैठक में हुआ। इस बीच गुरुवार को डायरिया का कोई नया मरीज नहीं मिलने से अफसरों ने राहत की सांस ली।

एसडीएम ने गुरुवार को नगर पंचायत, स्वास्थ्य और जल निगम की टीम के साथ इटौंजा नगर पंचायत के डायिरया पीड़ित इलाके का निरीक्षण कर दूषित जलापूर्ति बंद टैंकर से आपूर्ति शुरू कराई। इलाके में साफ-सफाई भी हो गई। यहां डायरिया से करीब 35 लोग पीड़ित हैं। इन्हें उल्टी, पेट दर्द और मरोड़ की दिक्कत अब भी है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने इन्हें दवाएं मुहैया कराईं, जिससे मामूली राहत है। एसडीम ने नगर पंचायत के जिम्मेदारों के साथ बैठक कर इलाके में खराब नल, सोलर वाटर, ऑरो और अन्य चीजें ठीक कराने के निर्देश दिये। एसडीएम ने मातहत अफसरों को निर्देश दिए हैं कि दूषित जलापूर्ति वाले मोहल्लों में जर्जर और क्षतिग्रस्त पाइप लाइनों को दुरुस्त कराएं।

बीकेटी एसडीएम सिद्धार्थ ने अधिशासी अधिकारी इटौंजा ग्रिजेश वैश्य, बीकेटी के श्रीश मिश्र समेत सीएचसी अधीक्षक और जल निगम के जेई के साथ वार्ड 3 के धोबी मोहल्ला, वार्ड दो, छह और सात का निरीक्षण कर पेयजल समेत अन्य सुविधाएं परखीं। दूषित जलापूर्ति के चलते इन मोहल्लों की आपूर्ति बंद करा दी। अब यह लोग टैंकर से पानी लेकर पी रहे हैं।

क्लोरीन डोजर नहीं कर रहा काम

एसडीएम ने निरीक्षण में पाया गया कि ट्यूबवेल और टंकी के बीच लगा क्लोरीन मिक्स डोजर पिछले काफी समय से काम नहीं कर रहा है। इसकी वजह से पानी में क्लोरीन नहीं मिल पा रही है और इलाके में दूषित जलापूर्ति हो गई। नगर पंचायत के अधिकारियों का दावा है कि वह घोल बनाकर पानी में क्लोरीन मिला रहे हैं।

हैण्डपम्प, सोलर वाटर से आरो खराब

एसडीम को निरीक्षण के दौरान नगर पंचायत 96 हैण्डपम्प में से 15 बंद मिले और वार्ड दो और तीन के लगा सोलर वाटर आरो भी खराब मिला। इसे दुरुस्त कराने के लिए कहा। यहां 1978 में 45 हजार लीटर की टंकी और पाइप लाइन पड़ी थी। यह टंकी मियाद पूरी कर चुकी है।

स्वास्थ्य विभाग ने लगवाया कैंप

इटौंजा सीएचसी अधीक्षक अनिल दीक्षित ने बताया कि वार्ड पांच में कैम्प लगाकर डायरिया पीड़ितों को दवाएं बांटी जा रही हैं। आशा और एएनएम की टीम घर-घर जाकर क्लोरीन टेबलेट और ओआरएस दे रही हैं।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें