DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

स्मार्ट सिटी में शहरों को बेहतर सुविधाएं देने की तैयारी शुरू

राज्य सरकार प्रदेश के 10 शहरों को स्मार्ट सिटी बनाने के लिए शहरी लोगों को तय समय में सुविधाएं देने की तैयारियों में जुट गई है। स्मार्ट सिटी के लिए चुने गए सभी शहरों में कंपनी गठन के साथ योजनाओं पर जल्द काम शुरू कराने की तैयारियां तेज कर दी गई हैं।

केंद्र सरकार ने देश के 100 शहरों को स्मार्ट सिटी बनाने का फैसला किया है। स्मार्ट सिटी योजना में उत्तर प्रदेश के 10 शहरों लखनऊ, कानपुर, आगरा, इलाहाबाद, झांसी, वाराणसी, मुरादाबाद, सहारनपुर, बरेली व अलीगढ़ को चुना गया है। स्मार्ट सिटी, अमृत व प्रधानमंत्री आवास योजना के तीन साल पूरे होने पर लखनऊ में दो दिन का कार्यक्रम हुआ। इसमें देशभर के सभी नगर निगम व नगर पालिका परिषद के अधिकारी शामिल हुए। स्मार्ट सिटी हो या अमृत योजना, इसमें उत्तर प्रदेश की प्रगति काफी खराब है। इसके चलते देश के अन्य राज्यों को पुरस्कार मिला लेकिन उत्तर प्रदेश का हाथ खाली रहा।

काम में नहीं हो लापरवाही

नगर विकास विभाग अब चाहता है कि स्मार्ट सिटी और अमृत योजना को बेहतर तरीके से चलाया जाए। इन योजनाओं में शहरी लोगों के सुझावों को शामिल करते हुए काम जल्द शुरू कराया जाए। कंपनी गठन जहां हो चुका है, वहां टेंडर लेकर काम शुरू कराए जाएं। नगर निगम स्तर पर जो काम होने लायक हैं उसे तुरंत शुरू करा दिया जाए। मंडलायुक्त व नगर आयुक्त स्मार्ट सिटी योजनाओं की हर सप्ताह समीक्षा करें। शहरों में होने वाले कामों को मौके पर जाकर देखें और तय समय में इसका काम कराएं। नगर विकास विभाग का मानना है कि देश के अन्य राज्यों की तरह उत्तर प्रदेश भी बेहतर काम कर सकता है, बस इसके लिए काम में लापरवाही नहीं होनी चाहिए।

स्मार्ट सिटी में काम

- शहरों में 24 घंटे पानी की सुविधा देना

- ट्रैफिक व्यवस्था में सुधार करना

- स्ट्रीट लाइट में एलईडी का इस्तेमाल करना

- पार्कों का सौंदर्यीकरण कराना

- ऑनलाइन टैक्स जमा करने की सुविधा देना

- ऑनलाइन जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र की सुविधा देना

- घर से कूड़ा उठाने की व्यवस्था करना

- सड़कों पर कूड़ा फेंकने पर प्रतिबंध लगाना

- बस रैपिड ट्रांसपोर्ट सेवा शुरू करना

- बस स्टैंडों पर मुफ्त वाईफाई की सुविधा देना

- शहरों में पर्यावरण सुधार करना और साइकिलिंग को बढ़ावा देना

कमांड कंट्रोल सिस्टम पर जोर

स्मार्ट सिटी योजना को बेहतर तरीके से चलाने के लिए कमांड कंट्रोल सिस्टम बनाने के लिए नगर निगमों को तेजी से काम करना होगा। वाराणसी में कमांड कंट्रोल सिस्टम पर काम शुरू हो गया है। स्मार्ट सिटी में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका है। इससे शहर में होने वाले काम पर नजर रख सकते हैं। योजना की प्रगति के साथ खामियों का पता लगाया जा सकता है। इससे शहर की ट्रैफिक व्यवस्था पर सीसीटीवी कैमरे से नजर रखने में भी मदद मिलेगी। देश के अन्य राज्यों में कमांड कंट्रोल सिस्टम ने योजनाओं की खामियां रोकी हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Smart City prepares to provide better facilities to cities