DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अरबों रूपए से संवरेगा कैसरबाग के 12 किलोमीटर का दायरा

स्मार्ट सिटी के तहत कैसरबाग क्षेत्र के 12 किलोमीटर परिधि को सड़क, पानी, बिजली, सीवर समेत अन्य कार्यों का होगा विकास लखनऊ। निज संवाददातास्मार्ट सिटी के तहत कैसरबाग के 12 किलोमीटर दायरे को विकसित किया जाएगा। क्षेत्र आधारित विकास (एबीडी) के तहत पहले चरण में कैसरबाग क्षेत्र को चिन्हित किया गया है। इस 12 किलोमीटर की परिधि को सड़क, पानी, बिजली, सीवर से चाकचौबंद करने के साथ ही एतिहासिक महत्व की इमारतों को खूबसूरत और मजबूत किया जाएगा। स्मार्ट सिटी के तहत कराए जाने वाले विकास कार्यों के संबंध में आयोजित बैठक में यह जानकारी नगर आयुक्त इन्द्रमणि त्रिपाठी ने दी। जिलाधिकारी ने स्मार्ट सिटी के काम में और तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शहर में स्मार्ट सिटी के काम जल्द ही अब धरातल पर दिखने चाहिए। 14 हजार घरों में होगा पानी का कनेक्शनकैसरबाग के 12 किलोमीटर दायरे में 14 हजार लोगों के घरों तक पाइप के जरिए शुद्ध पानी पहुंचाया जाएगा। आपूर्ति का काम जल्द से जल्द पूरा किया जाएगा। कैसरबाग चौराहे को बेहतर ढंग से विकसित करने के साथ ही चौराहे का सुंदरीकरण किया जाएगा। इस पर 74 लाख रुपए के करीब खर्च आएगा। कैसरबाग चौराहे पर मिलने वाली सभी पांचों सड़क को भी आवगमन के लिहाज से बेहतर किया जाएगा। इसके साथ ही स्मार्ट सिटी के तहत करीब 164 करोड़ रुपए में सीवेज, पानी आपूर्ति व नालियों को बनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि 98 करोड़ रुपए में सीवरेज , 40 करोड़ में पानी की सप्लाई का काम और करीब 26 करोड़ से नालियों को बनाया जाएगा। एतिहासिक इमारतों का होगा संरक्षणकैसरबाग जैसे पुराने क्षेत्र में एतिहासिक इमारतों की भरमार है। इन इमारतों में सबसे महत्वपूर्ण आठ इमारतों को संवारने और सुंदर बनाने का काम भी स्मार्ट सिटी का हिस्सा है। नगर आयुक्त इन्द्रमणि त्रिपाठी ने बताया कि हेरीटेज जोन के तहत बेगम हजरत महल पार्क, छतरमंजिल, दर्शन विलास कोठी, रोशनुद्दौला व रफेआम क्लब को मिलाकर करीब आठ स्थानों का विकास किया जाएगा। इन आठों इमारतों की मरम्मत और सुंदरीकरण पर करीब 62 करोड़ रुपए लगने का अनुमान है। यह काम इन्टेक करेगा। 200 स्मार्ट बस शेल्टर बनेंगेस्मार्ट सिटी प्लान में करीब दो सौ सिटी बस रुकने के स्थान पर स्मार्ट बस शेल्टर बनाए जाएंगे। शेल्टर बनाने के लिए सिटी बसों के रूकने के स्थानों की लिस्ट, नक्शा, और स्थान आदि की जानकारी मांगी गई है। स्मार्ट सिटी में होंगे ये भी काम रिवर फ्रंट विकास, इलेक्ट्रिक सिटी कम्पोनेन्ट, चकबस्त रोड, स्मार्ट सिटी नालेज मैनेजमेंट एवं कमांड सेंटर, रोड एंड जंक्शन, तीन मल्टीलेवल पार्किंग को स्मार्ट पार्किंग बनाना, ट्राफिक मैनेजमेंट सिस्टम, स्ट्रीट लाइट, सर्विलांस सिस्टम, सालिड-वेस्ट मैनेजमेंट सिस्टम, स्मार्ट बस शेल्टर्स

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:smart city