DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीतापुर : युवक की हत्या के मामले में तीन पर केस 

सीतापुर जिले में बुधवार रात बस अड्डे पर हुई हत्या के मामले में परिजनों ने तीन आरोपितों के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कराया है। नामजद आरोपितों में पकड़े गए युवक का भाई और बहनोई भी शमिल हैं। फिलहाल आरोपित से पूछताछ का क्रम दूसरे दिन भी जारी रहा। 

बता दें कि बुधवार रात बस अड्डे के सामने स्थित होटल में युवक को ताबड़तोड़ गोली मारकर मौत के घाट उतार दिया गया। मरने वाले की पहचान बाराबंकी जनपद के असन्दरा थाना क्षेत्र स्थित बासूंपुर निवासी धर्मेंद्र प्रताप सिंह के रूप में हुई। पता चला कि तीस वर्षीय युवक बस अड्डा स्थित कैण्टीन पर काम करता था। यही से योजना बनाकर हमलावर उसे बुला ले गए। बाद में बस अड्डा के सामने संचालित पंजाबी जायका होटल में ताबड़तोड़ गोली चलाकर उसकी हत्या कर दी गई।

नगर क्षेत्र के नेपालापुर निवासी महेश प्रताप उर्फ भुल्लू सिंह ने पकड़े गए युवक शानू और उसके भाई सरोज के अलावा बहनोई निवासीगण रेवाली भगवन्तपुर थाना रामपुर कला के खिलाफ अभियोग पंजीकृत कराया। इनका कहना है कि शानू और उसका पूरा परिवार पेशेवर अपराध करता रहा है। पहले मृतक शानू के पिता राम नरेश उर्फ बाबा की गाड़ी चलाता था। जब उसे बाबा के अपराधिक कृत्यों की जानकारी मिली ता उसने वाहन छोड़ दिया और कैण्टीन में काम करने लगा। बाबा रामनरेश और परिवार को शक था कि धर्मेंद्र उसके परिवार की पोल पट्टी खोल देगा। इसी लिए योजना बनाकर उसकी हत्या कर दी। बाद में कुछ लोग मौके से फरार हो गए। इसी आरोपों के आधार पर कोतवाली में भुल्लू सिंह की तहरीर के आधार पर धारा 302 और 201 के तहत शानू सिंह, उसके भाई सरोज सिंह और बहनोई पर केस दर्ज किया गया है। उधर विधिक कार्रवाई के बीच अस्पताल में शव का एक्सरे कराकर पोस्टमार्टम कराया गया। मौके से पकड़े गए शानू से पूछताछ का क्रम दूसरे दिन भी जारी रहा। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sitapur: Three cases in case of murder of youth