DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीतापुर : सीतापुर में बेची जा रही थी हिमाचल की शराब

खुलासा

महिला सहित दो आरोपी हुए गिरफ्तार, दो मुकदमें दर्ज

देशी शराब की दुकान हुई सील, सरकारी दुकानों में खपाई जा रही थी जवाब

सीतापुर हिन्दुस्तान संवाद

सरकारी राजस्व को अपने ही चूना लगा रहे थे। शराब की दुकान का लाइसेंसधारक ही अपनी दुकान में गैर सूबे की शराब खपा रहा था। राज तब खुला जब सीओ सिटी की टीम ने रामकोट इलाके के मुस्तफाबाद में दबिश दी। महिला के घर से 25 पेटी शराब बरामद की। रिफिल पैकिंग भी मिली। इन्हें गैंग बनाकर शराब की दुकान पर खपाया जा रहा था। सीओ सिटी ने बताया है कि एक लाख की कीमत की शराब को जब्त कर लिया गया है। देसी सरकारी शराब की दुकान में 10-12 पौवे हिमाचल प्रदेश से लाई गई शराब के मिले है। दुकान को सील करते हुए दो मुकदमे दर्ज किए हैं। दो आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। कुल छह लोग नामजद हैं। इसमें शराब का कारोबारी भी शामिल है, जिसकी दुकान सील की गई है।

सीओ सिटी योगेन्द्र सिंह ने अपनी टीम के साथ शनिवार रात रामकोट थानाक्षेत्र के मुस्तफाबाद में दबिश दी। पुलिस ने गुड्डी देवी पत्नी सुरेश के घर से पचीस पेटी शराब बरामद की। गिरफ्तार की गई महिला से पूछताछ हुई तो पता चला कि हिमाचल प्रदेश से लाया गया माल इलाके के मंगूरपुर स्थित देशी शराब की दुकान सहित अन्य स्थानों पर खपाया जाता रहा है। पुलिस ने दुकान पर रात में दबिश दी। तो 10-12 पौवे दुकान से बरामद हुए। इनको हरियाणा की पैकिंग हटाकर सीतापुर का लेवल लगाकर बेचा जा रहा था। माल जब्त कर दुकान सील की गई। इसी के बाद महिला गुड्डी देवी सहित मुस्तफाबाद के सुनील पुत्र हीरालाल को गिरफ्तार किया। सीओ सिटी का कहना है कि शराब की दुकान में गुड्डी देवी के भाई प्रकाश पुत्र बाबू निवासी कल्यानपुर थाना पिसावां ने साझा कर रखा है। रामकोट थाने में कुल दो मुकदमें सीओ सिटी की ओर से दर्ज कराए गए। पहले अभियोग में सुनील, गुड्डी और उसका भाई प्रकाश नामजद है। दूसरे मुकदमे में शराब का कारोबारी व मंगूरपुर निवासी छोटे पुत्र पोथू, प्रकाश पुत्र बाबू, पिसावां का कल्यानपुर सोबीलाल के खिलाफ केस दर्ज हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sitapur: Himachal's liquor was sold at Sitapur