DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सीतापुर : झूलते तारों की चपेट में आया किसान, हालत गंभीर

हाइटेंशन के झूलते हुए तार एक किसान के काल बन गए। बुधवार रात गांव के बाहर निकला ग्रामीण हाईटेंशन की चपेट में आकर बुरी तरह झुलस गया। परिवार के लोग सीएचसी में इलाज कराने के बाद उसे जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां उसकी हालत गंभीर बताई जा रही है। ग्रामीणों का कहना है कि हाईटेंशन के जर्जर तारों की शिकायत कई बार पहले की जा चुकी है। हादसा रेउसा थाना क्षेत्र के गुड़रुआ गांव में घटित हुआ। 

बुधवार की रात करीब आठ बजे किसान रामसनेही (30)पुत्र बसंत अपने खेत से काम कर घर लौट रहा था। रास्ते में वह अचानक झूलते हुए हाइटेंशन तार की चपेट में आ गया। चीख पुकार मची तो लोग खेतो से निकलकर मौके की ओर दौड़ पड़े। किसी तरह से ग्रामीण युवक को बचाया गया। परिवार के लोग किसान को किसी तरह से लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे। लेकिन रासनेही की हालत बिगड़ती चली गई। चिकित्सकों ने उसे जिला अस्पताल के लिए रेफर किया। जिला अस्पताल लाए जाने पर रामसनेही की हालत गंभीर बनी हुई। जर्जर तार से हुए हादसे को लेकर विद्युत विभाग के एसडीओ रेउसा शिवेन्द्र मोहन ने किसी भी तरह की जानकारी से इंकार किया है। 

दो मौतों के बात भी नहीं जागा महकमा
इसी इलाके में महज पन्द्रह दिनों के भीतर दो मौत हो चुकी है। करण्ट की चपेट में आकर रेउसा क्षेत्र में एक मासूम व एक महिला की मौत हो चुकी है। एक वृद्ध भी चपेट में आया है। गंभीर रुप से झुलसे वृद्ध का अभी भी इलाज हो रहा है। लोगों का कहना है कि झूलते और जर्जर हाइटेंशन तारों से निजात के लिए कई बार शिकायत भी की जा चुकी है।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sitapur: A farmer in swinging strings condition critical