अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शीला को मिला कुलाधिपति और रणवीर स्वर्ण पदक

जिले के रामनगर विकास खंड के हाफिजपुर लंगड़ी गांव की शीला देवी पुत्री विश्वनाथ कन्नौजिया ने डा़ राम मनोहर लोहिया अवध विश्वविद्यालय फैजाबाद से संस्कृत विषय की परास्नातक परीक्षा में प्रथम स्थान प्राप्त किया है। इसके लिए शीला देवी को कुलाधिपति स्वर्ण पदक और विश्वविद्यालय में सभी विषयों में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने के लिए रणवीर स्वर्ण पदक मिला है। 
शीला देवी ने साबित किया है कि प्रतिभा संसाधनों की मोहताज नहीं होती है। इस सफलता पर लोगों ने बधाई देते हुए शीला देवी के उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।
शीला देवी के पिता मुम्बई में एक लान्ड्री की दुकान पर मजदूरी कर परिवार का भरण पोषण करते हैं। उच्च शिक्षा के लिए शीला अपने मामा सुरेश कन्नौजिया के घर पर रहकर पढ़ाई कर रही है। शीला देवी ने अवध विश्वविद्यालय फैजाबाद से संस्कृत विषय की परास्नातक परीक्षा 2018 में निरंतरता के साथ प्रथम स्थान प्राप्त किया, जिसके लिए इन्हें कुलाधिपति स्वर्ण पदक तथा पूरे विश्वविद्यालय के सभी विषयों में सवार्ेच्च अंक प्राप्त करने के लिए कुलपति मनोज दीक्षित की उपस्थिति में राज्यपाल रामनाईक ने रणवीर स्वर्ण पदक प्रदान किया है। 
आलापुर क्षेत्र के सिंगारी देवी स्मारक महाविद्यालय से अध्ययन करते हुए 79.1 प्रतिशत अंकों के साथ पूरे विश्वविद्यालय में पहला स्थान प्राप्त करने वाली शीला की इच्छा प्रोफेसर बनकर देश के भविष्य का निर्माण करने की है। शीला ने अपनी इस सफलता का श्रेय माता-पिता व मागदर्शक भाई दुर्गेश कन्नौजिया को दिया है। 
क्षेत्र में बेटी की इस उपलब्धि पर खुशी का माहौल है, जिसमें सुरेश कन्नौजिया ने अपनी भांजी शीला देवी को आशीर्वाद और बधाई दिया। वहीं टाण्डा विधायक संजू देवी, आलापुर विधायक अनीता कमल, एमएलसी हीरालाल यादव, श्याम बाबू, भाजपा जिलाध्यक्ष कपिलदेव, जिपं सदस्य प्रद्युम्न यादव बब्लू, प्रवीण सिंह, दुर्गेश कन्नौजिया, रामफेर कन्नौजिया ने बधाई देते हुए कहा कि दलित समाज की बेटी ने गौरव बढ़ाने का काम किया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Shila got Kuladhipati and Ranvir gold medal