अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कई नदियां उफान पर,कल पूर्वी यूपी में भारी बारिश के आसार

प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में हो रही बारिश के चलते कई नदियां उफनाई हुई हैं। बुलंदशहर में गंगा खतरे के निशान से 40 सेंटीमीटर ऊपर बह रही है, जबकि मुरादाबाद में रामगंगा खतरे के निशान से 120 सेमी ऊपर है। लखीमपुर खीरी के पलियाकलां में शारदा नदी का जलस्तर 1 मीटर 80 सेमी ऊपर है। घाघरा नदी अयोध्या में खतरे के निशान से 40 सेमी, बाराबंकी के एल्गिनब्रिज पर 66 सेमी और बलिया के तुर्तीपार में 63 सेमी ऊपर बह रही है। 
गोंडा के चंद्रदीपघाट पर कुआनो नदी का जलस्तर खतरे के निशान से 51 सेमी ऊपर है। राज्य के बाढ़ नियंत्रण कक्ष से मिली जानकारी के अनुसार अगले 24 घंटे के दौरान गंगा नदी का जलस्तर फतेहगढ़, कन्नौज के गुमटिया, कानपुर देहात के अंकिनघाट, कानपुर नगर व बलिया में और बढ़ने के आसार हैं। इसी क्रम में मुरादाबाद में रामगंगा और एल्गिनब्रिज पर घाघरा का जलस्तर अगले 24 घंटे में और बढ़ने का अनुमान है।
चेतावनी जारी की
मौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश में भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। राज्य में मानसून सक्रिय है। बीते 24 घंटों के दौरान पूर्वी यूपी में कुछ स्थानों पर और पश्चिमी यूपी में अनेक स्थानों पर बारिश हुई। पूर्वी यूपी में कहीं-कहीं भारी बारिश भी हुई। राजधानी लखनऊ और आसपास के इलाके में गुरुवार दोपहर से शुरू हुआ बारिश का सिलसिला देर रात तक जारी रहा। 
बीते 24 घंटे के दरम्यान प्रदेश में सबसे अधिक सात सेंटीमीटर बारिश बीसलपुर में दर्ज की गयी। जबकि बांदा में छह, कानपुर में पांच, पीलीभीत में चार, जौनपुर, कानपुर, मुहम्मदाबाद, मुसाफिरखाना, फैजाबाद, बाराबंकी, महरौनी, अनूपशहर, बिलारी, शाहाबाद, धामपुर, राठ, नकुड़, पुवायां, मौधा और किरवाली में तीन-तीन सेंटीमीटर बारिश रिकार्ड की गयी। 

                
                
 
          
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Several rivers on the boom today the heavy rain in eastern UP