DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सेमी हाई-स्पीड रेलवे कॉरिडोर प्रोजेक्ट तेजी से आगे बढ़ाया जाए : योगी

आगरा से वाराणसी तक बनेगा 800 किमी का रेल कारीडोर क्रासर....केवल यात्री ट्रेन चलेंगी इस ट्रैक पर क्रासर...पूर्वांचल व लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे के समांतर होगा कारीडोर क्रासर....चार प्रोजेक्ट्स के लिए चार नोडल अधिकारी बनाने के निर्देश राज्य मुख्यालय। विशेष संवाददाता। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे तथा पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के समानांतर सेमी हाई-स्पीड रेलवे कॉरिडोर प्रोजेक्ट को आगे बढ़ाने को कहा है। यह कॉरिडोर आगरा से लखनऊ वाया गाजीपुर होते हुए वाराणसी तक जाएगा। इसकी लंबाई 800 किलोमीटर होगी। सीएम रेल मंत्री पीयूष गोयल से इस प्रोजेक्ट पर चर्चा कर चुके हैं। इस कोरीडोर में केवल यात्री ट्रेन तेज रफ्तार से चलेंगी। लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे पर बढ़ाये जाएं पेट्रोल पंप सीएम ने कहा कि लखनऊ आगरा एक्सप्रेस वे पर पेट्रोल पंप की संख्या बढ़ाई जाए। ढाबे के साथ ट्रामा सेंटर बनाए जाएं। सीएम ने यह निर्देश सोमवार को यूपीडा के कामकाज की समीक्षा के दौरान दिये। उन्होंने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे, बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे, डिफेंस कारीडोर और गंगा एक्सप्रेसवे प्रोजेक्स में तेजी लाने के लिए चार नोडल अधिकारियों की तैनाती की जाए। सीएम ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पूरी केंद्र सरकार हमें सहयोग दे रही है, इस अवसर का हमें पूरा लाभ लेते हुए सभी चारों प्रोजैक्ट्स को समय से पूरा करना चाहिए। पेट्रोल पंप से सटे हुए रेस्टोरेंट औऱ ढाबा की सुविधा प्रदान करने के साथ साथ उसी के पास ट्रामा सेंटर भी होना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि रेस्टोरेंट और ढाबे सड़क से हटकर हों और इसमें पार्किग की पूरी जगह चाहिए। जिन जगहों पर नीलगाय व अन्य जानवरों की टक्कर होती है, वहां की समीक्षा होनी चाहिए। पूर्वांचल एक्सप्रेस वे प्रोजेक्ट की सीएम ने की गहराई से समीक्षा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्वांचल एक्सप्रेसवे पर कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए हैं। रेलवे व अन्य विभाग से भी अनुमति भी समय पर होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कांट्रैक्टर समय से सब-कांट्रैक्टर को समय से भुगतान करता है कि नहीं, इसकी मानीटरिंग भी होनी चाहिए। बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे, गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे परियोजना, गंगा एक्सप्रेसवे परियोजना के कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि राज्य में किसी भी क्षेत्र के लोगों को यह कहने का मौका नहीं देना चाहिए कि उनके क्षेत्र की सरकार उपेक्षा कर रही है। प्रदेश का एक छोर बलिया है तो दूसरा सहारनपुर, हम सहारनपुर में विश्वविद्यालय बना रहे हैं तो बलिया में लिंक एक्सप्रेसवे। इस मौके पर औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना, राज्य मंत्री सुरेश राणा, मुख्य सचिव अनूप चंद्र पाण्डेय, अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी भी मौजूद थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sem high speed rail corridor yogi