DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नियम कानून ताक पर सीधे साक्षात्कार से शिक्षक भर्ती की तैयारी

रोक के बाद भी हो रही है प्रगति आश्रम में नियुक्तियां लखनऊ। कार्यालय संवाददाताबालागंज स्थित प्रगति आश्रम स्कूल प्रशासन शिक्षा विभाग की सख्ती के बाद भी शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया रद नहीं कर रहा है। स्कूल में माध्यमिक शिक्षा अधिनियम की व्यवस्थाएं को दरकिनार कर प्रबंधन सीधे साक्षात्कार के आधार पर चयन करने जा रहा है। इसकी शिकायत भी छठा मील निवासी अनिल मिश्र ने शिक्षा विभाग के उच्च अधिकारियों व शासन से की हैं। समाज कल्याण विभाग की ओर से संचालित बालागंज स्थित प्रगति आश्रम हाईस्कूल में माध्यमिक शिक्षा अधिनियम 1921 की व्यवस्थाएं लागू है। यहां पर शिक्षक से लेकर किसी भी प्रकार की भर्ती में शिक्षा विभाग के नियम कानून ही लागू होते हैं। विभाग व स्कूल प्रबंधन सीधे साक्षात्कार के आधार पर आधा दर्जन शिक्षकों की भर्ती का विज्ञापन निकाल दिया है। अवैध तरीके से हो रही नियुक्तियों को लेकर संयुक्त शिक्षा निदेशक को प्रत्यावेदन भी दिया गया था। इस पर जेडी ने सक्षम से स्तर से अनुमति लेकर ही नियुक्तियां करने को कहा गया था, तब तक नियुक्ति प्रक्रिया को स्थागित रखने के निर्देश भी दिए थे लेकिन इसके बाद भी स्कूल प्रशासन चहेतों की भर्ती करने के लिए नियुक्ति प्रक्रिया को जारी रखें है।शिक्षा विभाग कराएंगा जांचसंयुक्त शिक्षा निदेशक सुरेन्द्र तिवारी ने शिकायत मिलने के बाद जांच के आदेश दिए थे। साथ ही स्कूल का स्थलीय निरीक्षण भी कराए जाने को कहा था लेकिन अभी डीआईओएस कार्यालय की ओर से स्कूल का स्थलीय निरीक्षण नहीं किया गया है। नियुक्तियों के साथ साथ स्कूल प्रबंधन पर स्कूल की जमीन बेचने का आरोप भी लग चुका है। हालांकि स्थानीय लोगों के विरोध की वजह से जमीन बेचने में सफल नहीं हो पाए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:school