अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजधानी के 94 हजार छात्रों को मिलेगी छात्रवृत्ति

आगे की पढ़ाई के लिए छात्रवृत्ति व फीस वापसी का इंतजार अब खत्म हो गया है। वर्ष 2017-18 सत्र के लिए आवेदन करने वाले छात्र-छात्राओं को मानकों की कसौटी पर कसने के बाद 94 हजार से अधिक छात्र, छात्रवृत्ति के लिए पात्र पाए गए हैं। जल्द ही इन छात्रों का पैसा इनके बैंक एकाउंट में ट्रेजरी के माध्यम से पहुंच जाएगा। छात्र स्कालरसिप की वेवसाइट पर अपना स्टेटस देख सकते हैं।

छात्रवृत्ति योजना में लगातार हो रहे सुधारों का नतीजा है कि करीब 500 कॉलेज व संस्थानों वाली राजधानी में इस बार दशमोत्तर छात्रवृत्ति पाने वालों का आंकड़ा एक लाख से नीचे दिखाई दे रहा है। इस वर्ष छात्रवृत्ति के लिए आवेदन की समय सीमा कई बार बढ़ाए जाने के कारण वितरण में देरी भी हुई है।

ओबीसी के सबसे अधिक छात्र पात्र

छात्रवृत्ति पाने वालों में सबसे अधिक संख्या पिछड़ा वर्ग के छात्रों की रही है। इस वर्ग से करीब 31 हजार छात्र-छात्राएं फीस वापसी के लिए पात्र पाए गए। जबकि अनुसूचित जाति (एससी) के 29,208 छात्र-छात्राओं को इस वर्ष छात्रवृत्ति व फीस वापसी के मानकों पर खरे उतरे हैं। जबकि सामान्य वर्ग के 22,500 छात्रों को भी सरकार की इस योजना का लाभ मिलेगा। वहीं अनुसूचित जनजाति (एसटी) के 370 छात्रों को अपनी पढ़ाई के लिए सरकार की मदद मिलेगी।

वर्गवार छात्रवृत्ति के पात्रों की संख्या

एससी - 29,208

ओबीसी - 31, 651

सामान्य - 22,500

अल्पसंख्यक - 10,592

एसटी - 370

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:scholarship