DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समाजवादी पार्टी का अब संगठन की मजबूती पर जोर 

akhilesh yadav

समाजवादी पार्टी हार से सबक लेते हुए अब अपने संगठन को मजबूती पर ध्यान देगी।  साथ ही जनता से  जुड़े मुद्दों को लेकर भी संघर्ष करेगी। प्रदेश कार्यकार्यकारिणी के नए सिरे से पुनर्गठन किया जाना है। 

सपा में पिछले साल ही नई कार्यकारिणी बन जानी थी, लेकिन सपा अध्यक्ष के निर्देश पर प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम व अन्य पदाधिकारी चुनाव में व्यस्त होते गए। इस कारण नई कार्यकारिणी बनाने का काम टलता रहा और जब चुनाव सर पर आ गए तो पूरा फोकस बसपा से गठबंधन तैयार करने में हो गया। अब सपा को उन चुनाव क्षेत्रों पर ध्यान देना है जिसे उसने गठबंधन के चलते अपने प्रत्याशी नहीं उतारे। इस कारण उस जिले में कई कार्यकर्ता ढीले पड़ गये या दूसरे दलों में चले गये। अब इन इलाकों में अपने नेताओं और कार्यकर्ताओं को एकजुट कर संगठनात्मक गतिविधियों को तेज करने की चुनौती है। इसके बाद ही प्रदेश कमेटी का गठन होना है।  इसके अलावा चारों फ्रंटल संगठन समाजवादी छात्र सभा, समाजवादी ेयुवजन सभा, मुलायम सिंह यूथ बिग्रेड व लोहिया वाहिनी का भी नए सिरे से गठन किया जाना है।

सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव इन दिनों कार्यकर्ताओं व नेताओं से मुलाकात कर अलग-अलग सीटों पर हार के कारणों पर चर्चा कर रहे हैं। उन्हें बसपा के साथ गठबंधन करने से  नफा नुकसान दोनों का भी अलग-अलग फीडबैक मिल रहा है। सपा के एक वरिष्ठ नेता कहते हैं कि अब पार्टी को आगे के लिए नए सिरे से रणनीति बनानी पड़ेगी। इसी साल विधानसभा उपचुनाव होने हैं। इसे जीतने के लिए पार्टी को भाजपा के खिलाफ आक्रामक अभियान चलाना होगा।  आने वाले विधानसभा के मानसून सत्र में भी सपा प्रदेश सरकार को घेरेगी।  सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव भी लोकसभा चुनाव में सपा की परफार्मेंस से खासे नाखुश हैं और उन्होंने संगठन की मजबूती, पुराने नेताओं को तवज्जो देने व कार्यकर्ताओं  को सक्रिय करने की बात कही है। 

अखिलेश हुए सक्रिय 
सपा मुखिया अखिलेश 3 जून को आजमगढ़ जा रहे है। वह आजमगढ़ से पहली बार सांसद बने हैं। वह  अपनी जीत के लिए आजमगढ़ की जनता का अभार व्यक्त करेगे। वह वहां एक बड़ी जनसभा को भी संबोधित करेंगे। चार जून को सपा गाजीपुर जाएंगे। अखिलेश अब यूपी की भाजपा सरकार के प्रति आक्रामक हो गये हैं। 

जगनमोहन को बधाई
अखिलेश ने  अपने ट्विटर हैंडल से आंध्र प्रदेश के नए मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी को सीएम बनने की बधाई दी और राज्य की तरक्की और समृद्धि की कामना की। इससे पहले अखिलेश यादव ने 29 मई  को अखिलेश यादव ने अपने ट्विटर हैंडल से उड़ीसा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक को बधाई दी थी।  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Samajwadi Partys emphasis on strengthening organization