samadhan diwas - समाधान दिवस में घूसे भाजपा कार्यकर्ता, बंद किए दरवाजे, फरियादियों को रोका DA Image
7 दिसंबर, 2019|7:49|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

समाधान दिवस में घूसे भाजपा कार्यकर्ता, बंद किए दरवाजे, फरियादियों को रोका

भाजपा कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को विरोध की आड़ में हद पार कर दी। लोगों की समस्याओं के निदान के लिए आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिसव में बाधा बन कर खड़े हो गए। विरोध के नाम पर भाजपा कार्यकर्ता समाधान दिवस कक्ष घुस कर धरने पर बैठ गए। फरियादियों को तहसील दिवस हॉल के भीतर जाने से रोकने लगे। यहीं नहीं रुके, नारेबाजी करते भाजपा कार्यकर्ताओं ने कई बार तहसील दिवस कक्ष के दरवाजे को बंद कर दिया। दिवस की कार्रवाई रोकी। प्रशासन धरने पर बैठे भाजपा कार्यकर्ताओं के आगे लाचार नजर आया।

मोहनलालगंज तहसील में आपूर्ति विभाग के भ्रष्टाचार के खिलाफ धरने पर बैठे भाजपा कार्यकर्ता मंगलवार को सम्पूर्ण समाधान दिवस कक्ष में घुस गए। हाथों में भाजपा का झंड़ा लेकर नारेबाजी करते हुए धरने पर बैठ गए। यह सभी सोमवार से तहसील परिसर में धरने पर बैठे थे। धरने पर बैठे लोग फरियादियों को भीतर जाने से रोकने लगे। यह सभी यहीं पर नहीं रुके कई बार तहसील दिवस कक्ष के दरवाजे को बंद कर दिया। एसडीएम चंदन पटेल कई बार नाराज कार्यकर्ताओं को मनाकर किसी तरह सम्पूर्ण तहसील दिवस का संचालन करते रहे। दोपहर बाद एडीएम (प्रशासन) श्रीप्रकाश गुप्ता मौके पर पहुंचे। नाराज कार्यकर्ताओं को एक सप्ताह में शिकायतों का निस्तारण करने व अभद्रता करने वाले आपूर्ति विभाग के अधिकारियों की शिकायत किए जाने का आश्वासन देकर धरना समाप्त करवाया। भाजपा कार्यकर्ताओं का हुड़दंग देख फरियादियों ने इनकी खूब निंदा की।

दिव्यांग को मिला शौचालय का भरोसा

शौचालय के अभाव में 500 मीटर तक घिसटकर शौच जाने के लिए मजबूर दिव्यांग कृष्णावती को एसडीएम के आश्वासन के बाद शौचालय मिलने की उम्मीद जाग गई है। कृष्णावती अपने बुजुर्ग पिता की मदद से मंगलवार को सम्पूर्ण समाधान दिवस पहुंची। वह दोनों पैरों से चल पाने में असमर्थ है। घिसट-घिसट कर तहसील दिवस में दिव्यांग को आते देख एसडीएम कुर्सी से उठकर तुरंत दिव्यांग के पास पहुंचे। युवती ने शौचालय न होने की व्यथा सुनाई। एसडीएम ने बीडीओ को तुरंत युवती के लिए शौचालय का निर्माण कराए जाने का आदेश दिए।

संपूर्ण दिवस में रहा सन्नाटा

सरोजनीनगर और सदर तहसील में आयोजित समाधान दिवस में सन्नाटा पसरा रहा। यहां फरियादियों की संख्या काफी कम रही। वहीं ज्यादातर अधिकारी भी संपूर्ण समाधान दिवस से नदारद रहे। सरोजनीनगर में एडीएम(आपूर्ति) चंद्र प्रकाश की अध्यक्षता और सीओ कृष्णानगर लाल प्रताप सिंह की मौजूद्गी में 53 शिकायतें दर्ज हुईं।

समाधान दिवस में आई 574 शिकायतें, निपटे मात्र छह

राजधानी की पांचों तहसीलों में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में मंगलवार को 574 शिकायतें दर्ज हुई। इनमें से मात्र छह शिकायतों का निस्तारण ही मौके पर किया जा सका।

मलिहाबाद में आए 175 मामलो में से दो का निस्तारण मौके पर किया गया। जबकि तहसील बीकेटी में 161 शिकायतों में से एक और मोहनलालगंज में 157 में तीन मामले मौके पर निस्तारित हुए। सदर तहसील में आए 28 और सरोजनीनगर में 53 मामलों में एक भी मामला मौके पर नहीं निपट सका।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:samadhan diwas