ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश लखनऊसेवानिवृत्त डाक कर्मी ने पार्क में खुद को गोली से उड़ाया

सेवानिवृत्त डाक कर्मी ने पार्क में खुद को गोली से उड़ाया

पत्नी और बेटे से झगड़े के बाद लाइसेंसी बंदूक से सिर में मारी गोली ...

सेवानिवृत्त डाक कर्मी ने पार्क में खुद को गोली से उड़ाया
हिन्दुस्तान टीम,लखनऊSat, 11 May 2024 10:40 PM
ऐप पर पढ़ें

पत्नी और बेटे से झगड़े के बाद लाइसेंसी बंदूक से सिर में मारी गोली

राजाजीपुरम में शुक्रवार रात हुई घटना

लखनऊ, संवाददाता।

राजाजीपुरम ई-ब्लॉक स्थित पार्क में शुक्रवार रात सेवानिवृत्त डाक कर्मी लक्ष्मी नारायण त्रिवेदी (61) ने अपनी लाइसेंसी डबल बैरल बंदूक से सिर में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। गोली चलने की आवाज सुन आसपास के लोग पार्क में आ गए। लक्ष्मी नारायण को जमीन पर खून से लथपथ पड़ा देख अफरा-तफरी मच गई। कुछ देर पहले उनका पत्नी और बेटे से झगड़ा हुआ था।

राजाजीपुरम ई- 1916 निवासी लक्ष्मी नारायण त्रिवेदी 31 मई को डाक विभाग से लिपिक के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। पुलिस के मुताबिक लक्ष्मी नारायण कुछ समय से अवसाद में चल रहे थे। शुक्रवार रात को लक्ष्मी नारायण का पत्नी रेखा और बेटे शिवा से किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी। झगड़ा बढ़ने पर लक्ष्मी नारायण ने पत्नी और बेटे को तमाचा जड़ दिया। इसके बाद पत्नी रेखा आलमबाग स्थित अपने मायके चली गई। वहीं शिवा भी कुछ दूरी पर स्थित दूसरे घर चला गया। इंस्पेक्टर तालकटोरा कैलाश चन्द्र दुबे के मुताबिक मृतक के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। बंदूक को कब्जे में लेकर लाइसेंस निरस्तीकरण के लिए रिपोर्ट भेज दी गई है।

पत्नी और बेटे से हुआ था झगड़ा

झगड़े के बाद पत्नी और बेटे के बाहर चले जाने के बाद लक्ष्मी नारायण घर पर अकेले थे। कुछ देर बाद वह अपनी डबल बैरल बंदूक लेकर घर के सामने स्थित पार्क में आ गए। रात करीब 10 उन्होंने अपने सिर में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। गोली चलने की आवाज सुन आसपास के लोग पार्क में पहुंचे तो लक्ष्मी नारायण खून से लथपथ पड़े थे। पड़ोसियों ने परिवार के लोगों और पुलिस को फोन कर सूचना दी। मौके पर पहुंचे परिजन उन्हें रानी लक्ष्मी बाई राजकीय संयुक्त चिकित्सालय लेकर गए। जहां डॉक्टरों ने लक्ष्मी नारायण को मृत घोषित कर दिया।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें