Results of 2019 will like 1977 Lok Sabha elections: Akhilesh - 2019 के लोकसभा चुनाव में 1977 जैसे आएंगे नतीजे: अखिलेश DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

2019 के लोकसभा चुनाव में 1977 जैसे आएंगे नतीजे: अखिलेश

समाजवादी पार्टी मुखिया अखिलेश यादव ने कहा है कि जिस तरह हालात भाजपा ने पैदा किए हैं उसमें सन  2019 में सन् 1977 के नतीजों  की पुनरावृत्ति अवश्यंभावी है। सोलह महीनों में भाजपा सरकार ने प्रदेश को तबाह कर दिया है। समाजवादी सरकार के विकास कार्यो की अनदेखी करना और विपक्षी नेताओं को बदनाम करना भाजपा का प्रमुख एजेंडा है।
10 साल में स्कूटर से ऑडी कार तक पहुंच गया सट्टा किंग श्याम बोहरा

अखिलेश यादव ने शुक्रवार को पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच कहा कि  भाजपा की नफरत की राजनीति को रोकना बहुत ही जरूरी है। बडे पैमाने पर गरीबों को बेघर किया जा रहा है। व्यापारियों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है। उनके अपरहरण, हत्या और लूट की घटनाए थमने का नाम नहीं ले रही है। उद्योगपति अपमानित हो रहे हैं। भ्रष्टाचार चरम पर है। छात्र युवाओं की समस्याओं के समाधान के बजाय झूठे मुकद्मों में जेल की यातपाएं दी जा रही है। 

शर्मनाक ! रुपये न होने पर अस्पताल ने रोका इलाज, पिता को कंधे पर ले गया बेटा
बाढ़ पीडि़तों की मदद में जुटें सपा कार्यकर्ता 
अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी कार्यकर्ता  पदाधिकारी, विधायक बाढ़ राहत कार्यो में जुट जाएं। बाढ़ में फंसे लोगों के बचाव के साथ उन तक खाना, पानी तथा अन्य सुविधाएं पहुंचाई जानी चाहिए। बाढ़ग्रस्त परिवारों के लिए शरण स्थल बनाए जाने चाहिए। उन्होंने कहा कि गोण्डा में एल्गिन ब्रिज के टूटने से सैकड़ों गांव जलमग्न हो गये है। इससे फसलें बर्बाद हो गयी है। किसानों की स्थिति बहुत खराब हो गयी है।  


अखिलेश ने दिया मदद का भरोसा 
सपा प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने बताया कि गोंडा की कमलेश अपने तीन बच्चों के साथ मिली जो गरीबी के कारण भूख से पीड़ित थे। गरीबों को मिलने वाले राशन और छत से वंचित मां-बच्चे अपनी व्यथा बताते हुए फूट-फूटकर रो पड़े।  अखिलेश यादव ने उनको सांत्वना दी और आश्वस्त किया कि सरकारी मदद मिले न मिले समाजवादी पार्टी उनकी मदद करेगी।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Results of 2019 will like 1977 Lok Sabha elections: Akhilesh