DA Image
25 सितम्बर, 2020|3:51|IST

अगली स्टोरी

आरोग्य मेले फिर से लगें, वहां कोरोना टेस्ट भी हो: मुख्यमंत्री

default image

प्रमुख संवाददाता / राज्य मुख्यालयमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोविड-19 के पूर्व प्रदेश में आरोग्य मेले आयोजित किए जा रहे थे। इन आरोग्य मेलों को फिर से प्रारम्भ करने पर विचार किया जाए। आरोग्य मेले प्रत्येक रविवार को आयोजित किए जाएं। उन्होंने कहा कि आरोग्य मेलों के साथ टीकाकरण अभियान को भी जोड़ा जाना चाहिए। आरोग्य मेलों के अवसर पर कोविड-19 का एण्टीजन टेस्ट कराने की व्यवस्था भी की जाए। मुख्यमंत्री मंगलवार को अपने सरकारी आवास पर आयोजित राज्य स्वास्थ्य मिशन की बैठक में यह विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बेहतर अन्तर्विभागीय समन्वय से प्रदेश में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की सफलता कई गुना बढ़ सकती है। वर्ष 2016 की तुलना में वर्तमान में संचारी रोगों से होने वाली मृत्यु में लगभग 95 प्रतिशत की कमी आयी है। उन्होंने प्रत्येक तीन माह में संबंधित विभागों के साथ अंतर्विभागीय बैठक और प्रत्येक छह माह में होने वाली कार्यकारी परिषद की बैठक भी नियमित रूप से सम्पन्न कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि एनएचएम के संचालित कार्यक्रमों की समीक्षा विभागीय मंत्री के स्तर पर मासिक, शासन स्तर पर पाक्षिक और जनपदीय स्तर पर साप्ताहिक रूप से वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए की जाए। उन्होंने एम्बुलेन्स के रिस्पांस टाइम को करने के लिए कार्ययोजना बनाई जाए। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह, चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना, समाज कल्याण मंत्री रमापति शास्त्री, अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नंदी समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Restore health fair again corona test should also be there Chief Minister