अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरक्षण समर्थकों ने भी खोला मोर्चा

आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति ने एससी-एसटी ऐक्ट को उसके मूल स्वरूप में बनाए रखने के कानून के पक्ष में मोर्चा खोल दिया है। संघर्ष समिति की कार्यसमिति ने यह निर्णय लिया है कि नौ सितंबर से जन जागरण अभियान चलाकर सांसदों व विधायकों को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

समिति ने यह फैसला भी लिया है कि ज्ञापन में पदोन्नति में आरक्षण संबंधी लंबित बिल पास कराने की मांग की जाएगी। समिति ने भाजपा नेता कलराज मिश्र के एससी-एसटी ऐक्ट के संबंध में दिए बयान की भी निंदा की है। समिति ने कहा है कि ऐक्ट पर पुनर्विचार करने की उनकी मांग बचकाना है, क्योंकि पिछले महीने लोकसभा व राज्यसभा में सभी दल के नेताओं ने सर्वसम्मति से इसे पास किया है। समिति के संयोजक अवधेश कुमार वर्मा, केबी राम, डॉ. रामशब्द जैसवारा, आरपी केन, अनिल कुमार, अजय कुमार, श्याम लाल, अंजनी कुमार, प्रेमचन्द्र, अशोक सोनकर, दिनेश कुमार व राधेश्याम ने कहा कि अब लोकसभा से पदोन्नति बिल पास कराने को लेकर आर-पार की लड़ाई का ऐलान होगा। प्रदेश के सभी 8 लाख आरक्षण समर्थक कार्मिक पूरी तरीके से कमर कस चुके हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Reservation supporters will also fight