ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेश लखनऊलोहिया संस्थान की भर्तियां हाईकोर्ट के अंतिम आदेश के आधीन

लोहिया संस्थान की भर्तियां हाईकोर्ट के अंतिम आदेश के आधीन

लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेज में प्रोफेसर्स की भर्तियों का मामला लखनऊ, विधि...

लोहिया संस्थान की भर्तियां हाईकोर्ट के अंतिम आदेश के आधीन
हिन्दुस्तान टीम,लखनऊThu, 08 Feb 2024 11:30 PM
ऐप पर पढ़ें

लोहिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइन्सेज में प्रोफेसर्स की भर्तियों का मामला

लखनऊ, विधि संवाददाता।

हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने डॉ. राम मनोहर लोहिया मेडिकल साइन्सेज, लखनऊ में जनरल सर्जरी, ऑर्थोपेडिक्स, अब्स्टेट्रिक्स एंड गायनेकोलॉजी, फिजियॉलॉजी, नेफ्रोलॉजी व बॉयोकेमिस्ट्री विभागों के लिए प्रोफेसर्स की भर्ती के सम्बंध में महत्वपूर्ण आदेश जारी करते हुए, नियुक्तियों को अपने अंतिम आदेशों के अधीन कर लिया है। न्यायालय ने कहा है कि सम्बंधित विज्ञापन के क्रम में यदि उक्त विभागों में प्रोफेसरों के पदों पर नियुक्तियां होती हैं तो वे वर्तमान याचिका पर पारित अंतिम आदेशों के अधीन होंगी और यदि नियुक्ति पत्र दिया जाता है तो उसमें भी इस तथ्य का उल्लेख किया जाए।

यह आदेश न्यायमूर्ति मनीष माथुर की एकल पीठ ने डॉ. संजय कुमार भट व पांच अन्य याचियों की याचिका पर पारित किया। याचियों की ओर से अधिवक्ता गौरव मेहरोत्रा ने दलील दी कि उक्त विज्ञापन के जारी किए जाने से पूर्व आरक्षण की प्रक्रिया ही नहीं लागू की गई जिसकी वजह से पूरे इंस्टीट्यूट को एक यूनिट मानते हुए, आरक्षण की व्यवस्था लागू कर दे एगई है। याचियों की ओर से यह भी दलील दी गई कि रोस्टर इस तरह से बनाया गया है कि वे स्वयं आवेदन नहीं कर पा रहे हैं। यह भी कहा गया कि क्रिटिकल केयर यूनिट काम चलाऊ व्यवस्था के सहारे चल रही है। इस पर न्यायालय ने राज्य सरकार व लोहिया इंस्टीट्यूट को दो सप्ताह में अपना जवाब दाखिल करने का आदेश दिया है। मामले की अगली सुनवाई 23 फरवरी को होगी।

यह हिन्दुस्तान अखबार की ऑटेमेटेड न्यूज फीड है, इसे लाइव हिन्दुस्तान की टीम ने संपादित नहीं किया है।
हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें