DA Image
18 जनवरी, 2020|12:15|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

70 फीसदी राशनकार्डों में आधार संख्या दर्ज

- प्रमुख संवाददाता - राज्य मुख्यालय राशनकार्ड में प्रदेश के 70 फीसदी लाभार्थियों की आधार संख्या की फीडिंग हो गई है। वहीं बाकी के 30 फीसदी राशन कार्डों में आधार संख्या 31 अक्तूबर तक दर्ज की जाएगी। मुख्य सचिव राजीव कुमार ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं। मुख्य सचिव ने खाद्य एवं रसद विभाग के कार्यों की समीक्षा कर विभागीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि सभी शहरी उचित दर दुकानों में लाभार्थियों के आधार के जरिए खाद्यान्न बांटना सुनिश्चित कराया जाएगा। लाभार्थियों की शिकायतों की मॉनिटरिंग के लिए कॉलसेंटर 1800-180-0150 और 1967 में प्राप्त होने वाले शिकायतों के निस्तारण कराने की कार्रवाई प्राथमिकता के आधार पर की जाए और लाभार्थियों को इसकी सूचना दी जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि संबंधित कोटेदार द्वारा खाद्यान्न उठाने की सूचना क्षेत्र के राशनकार्ड धारकों को एसएमएस के माध्यम से दी जाए ताकि सभी पात्र राशन लाभार्थी समय से अपना राशन दुकान से प्राप्त कर सके। बैठक में जानकारी दी गई कि उचित दर की प्रदेश की कुल 79663 दुकानों का डाटा डिजिटाइजेशन करा दिया गया है। प्रमुख सचिव ने बताया कि प्रदेश में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के एण्ड-टु-एण्ड कम्प्यूटराइजेशन के तहत सप्लाई चेन मैनेजमेन्ट लागू कराने के लिए अधिकारियों को प्रशिक्षित किया जा चुका है। सप्लाई चेन मैनेजमेन्ट के तहत खाद्यान्न का ऑनलाइन आवंटन, जनपद स्तर पर पूर्ति निरीक्षक द्वारा दुकानवार को ऑनलाइन आवंटन, जिला पूर्ति अधिकारी द्वारा पूर्ति निरीक्षक के माध्यम से किए गए ऑननलाइन आवंटन का सत्यापन कराते हुए आवंटन को लॉक कराया जा रहा है। प्रदेश के 3176 सार्वजनिक वितरण प्रणाली दुकानें निरस्त हैं जिनकी जगह नई दुकानें खोली जाएंगी। बैठक में प्रदेश के बताया कि 6,745 पेट्रोल/डीजल पम्पों की जांच कराकर गड़बड़ी या कमी पाये जाने वाले 539 पेट्रोल/डीजल पम्पों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की गई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:ration card linked with adhaar card