DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जनता को समर्पित हुई ज्योतिबा फूले पार्किंग

विद्युत उपभोक्ता सेवा केन्द्र का शुभारम्भ

नो ट्रिपिंग जोन की शुरुआत, राजधानीवासियों को निर्बाध मिलेगी बिजली

लखनऊ। प्रमुख संवाददाता

चौक स्थित ज्योतिबा फूले पार्क में बनाई गई पार्किंग गुरुवार को जनता के लिए शुरू कर दी गई है। केन्द्रीय गृहमंत्री व लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह ने फीटा काटकर पार्किंग का लोकार्पण किया। साथ ही नादान महल रोड के जयभारत पार्क में नई पार्किग बनाने का शिलान्यास किया। इसके अलावा विद्युत उपभोक्ता सेवा केन्द्र का शुभारम्भ किया। साथ ही राजधानीवासियों को निर्बाध बिजली मुहैया कराने के लिए नो ट्रिपिंग जोन योजना का शुभारम्भ किया।

पार्क की खूबसूरती बनाए रखने के लिए एलडीए को बधाई-राजनाथ

ज्योतिबा फूले पार्क में बनी पार्किंग के विकसित हुए पार्क में आयोजित कार्यक्रम में राजनाथ सिंह ने कहा कि मल्टी लेवल पार्किंग के निर्माण से चौक के लोगों व खरीदारी करने आने वालों के सामने वाहनों को खड़ा करने की समस्या दूर होगी। सबसे बड़ी बात पार्क का स्वरूप बरकरार रखा गया है। इसके लिए एलडीए के अधिकारी बधाई के पात्र हैं। राजनाथ सिंह ने कहा कि राजधानी में हर साल लगभग एक लाख वाहन बढ़ रहे हैं। ऐसे में मल्टी लेवल पार्किंग ही एक मात्र विकल्प है। इसी को ध्यान में रखते हुए नादान महल रोड के जयभारत पार्क में नई पर्किंग का निर्माण किया जाएगा।

लखनऊवासियों को कटौती मुक्त बिजली मिलेगी

बिजली परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास पर केन्द्रीय गृहमंत्री ने ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा की सराहना की। उन्होंने कहा कि नो ट्रिपिंग जोन के बारे में विचार करना और उसपर काम करना आसान नहीं है। लखनऊवासियों को कटौती मुक्त बिजली मिलेगी। ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा कि अब तक सिर्फ चार जिलों को बिजली मिलती थी। बिजली विभाग की जिम्मेदारी मिलने पर सभी समस्याओं को धीरे-धीरे दूर किया जा रहा है। इस वर्ष गर्मी में शहर के लोगों को कटौती मुक्त बिजली मिल सकेगी। किसी समस्या पर अब बिजली विभाग के अधिकारी को फोन करने के बजाए हेल्प लाइन नम्बर 1912 पर शिकायत करने की जरूरत है। बिजली विभाग खुद उपभोक्ता के घर पहुंचेगा।

लखनऊ को सबसे सुंदर बनाने का सपना

राजनाथ सिंह ने कहा कि उनका सपना है कि लखनऊ देश का सबसे खूबसूरत शहर बने। इसमें वह कितना कर पाएंगे यह भविष्य के गर्भ में हैं। फिलहाल लखनऊ में बहुत तेजी से विकास कार्य हो रहे हैं। बताने की जरूरत नहीं है। हर किसी को दिखाई दे रहा है।

चुटकी ली

पॉवर कॉरपोरेशन की एमडी अर्पणा यू का नाम पढ़ने के दौरान राजनाथ ने कहा कि यह तो बड़ा जटिल नाम है। यू का क्या मतलब। इस पर उन्होंने अपना पूरा नाम अपर्णा उपाध्याय बताया। सुनकर वह मुस्कुराए और वैरी गुड, कहकर आगे बढ़े। इसके बाद उन्होंने भाजपा के वरिष्ठ पार्षद रमेश कपूर बाबा के नाम पर भी चुटकी ली। उन्होंने सबसे पूछा कि आप लोग बाबा को जानते हैं। इस शहर में एक ही बाबा हैं। इतना कहते ही माहौल तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा।

इंफो

ज्योतिबा फूले पार्क

पार्क के नीचे खड़ी होंगी 396 कारें

12337 वर्ग मी. क्षेत्रफल

3 बेसमेंट का निर्माण

4876.15 लाख पार्किंग की लागत

396 चार पहिया वाहन खड़े होने की क्षमता

266 दो पहिया वाहन खड़े होने की क्षमता

15 हैण्डीकैप वाहन भी खड़े हो सकते हैं

6055.60 वर्ग मी. लोअर भूतल का क्षेत्रफल

6055.60 वर्ग मी. बेसमेंट द्वितीय का क्षेत्रफल

6188.86 वर्ग मी. बेसमेंट तृतीय का क्षेत्रफल

30 जून तक नई पार्किंग

नादान महल रोड पर नवभारत पार्क

1451.50 लाख की स्वीकृति

3400 वर्गमीटर क्षेत्रफल

दो बेसमेंट पार्किंग का होगा निर्माण

172 गाड़ियों के खड़े होने की क्षमता

नो ट्रिपिंग जोन बनेगा शहर

97.43 करोड़ की परियोजना का शुभारंभ

इस परियोजना के अंतर्गत शहर को नो ट्रिपिंग जोन बनाया जाएगा। बिजली कभी कटेगी ही नहीं। लखनऊ के साथ कानपुर, गोरखपुर, वाराणसी व मथुरा को भी नो ट्रिपिंग जोन बनाया जाएगा।

घर बैठे बिजली कनेक्शन-1.5 करोड़ की लागत से बर्लिंगटन चौराहा में विद्युत उपभोक्ता सेवा केंद्र का शुभारंभ

कस्टमर केयर सेंटर की क्षमता-6.20 करोड़ की लागत से 30 सीटों का विस्तार

3 उपकेंद्रों का शिलान्यास-5.32 करोड़ की लागत से प्रदेश के पहले गैस इंसुलेटेड सिस्टम 33/11 बिजली उपकेंद्र का शिलान्यास, 17.23 करोड़ से महिला पॉलीटेक्निक उपकेंद्र का शिलान्यास, 9.75 करोड़ अमराई गांव में बनने वाले उपकेंद्र का शिलान्यास

4.5 करोड़ से बने 132 केवी उपकेंद्र मार्टिनपुरवा की क्षमता वृद्धि 3 गुणा 63 एमवीए परियोजना का लोकार्पण

-7.86 करोड़ से बने 220 केवी उपकेंद्र हरदोई रोड की क्षमता वृद्धि 2 गुणा 200 एमवीए परियोजना का लोकार्पण

-9 करोड़ की लागत से 132 केवी गोमतीनगर से 132 केवी उपकेंद्र एसजीपीजीआई के मध्य लाइन की क्षमता वृद्धि

-15.5 करोड़ की लागत से 132 केवी मार्टिनपुरवा से 132 केवी उपकेंद्र एसजीपीजीआई एवं 132 केवी उपकेंद्र एसजीपीजीआई से 132 केवी उपकेंद्र सरोजनीनगर के मध्य लाइन की क्षमता वृद्धि

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:rajnath