DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दिवाली पर छठ पूजा पर ट्रेनों में उमड़ी भीड़, बेटिकट यात्रियों का कब्जा

दिवाली पर वापसी और छठ पूजा पर ट्रेनों में भीड़ उमड़ना शुरू हो गई है। शनिवार रात दिल्ली जाने वाली लखनऊ मेल, काशीविश्वनाथ, फैजाबाद दिल्ली जैसी ट्रेनों में काफी भीड़ रही। गोरखपुर इंटरसिटी, लखनऊ छपरा एक्सप्रेस के कोचों में घुसने तक की जगह नहीं बची थी। आरक्षित टिकट वाले यात्रियों को भी बेटिकट यात्रियों की तरह यात्रा करना पड़ गई। कोटा पटना, गोरखपुर इंटरसिटी के स्लीपर कोचों में बेटिकट यात्रियों ने कब्जा जमा लिया। इससे आरक्षित यात्रियों को काफी परेशानी उठाना पड़ी।

त्योहार पर यात्रियों के आरक्षित टिकट भी जरनल टिकट की तरह साबित हुए। छठ पूजा की वजह से कोटा से पटना चलने वाली कोटा पटना एक्सप्रेस के आरक्षित कोचों पर बेटिकट यात्रियों ने कब्जा जमा लिया। कोच संख्या एस-9 में सफर कर रहे सरबजीत ठाकुर ने अपनी शिकायत में बताया कि कोच में 250 से अधिक बेटिकट टिकट यात्री घुस आए है। ऐसे में आरक्षण करा कर चले रहे यात्रियों को काफी मुश्किलें उठाना पड़ रही है। इसके अलावा छठ पूजा पर गोरखपुर व बिहार की ओर जाने वाली ट्रेनों में काफी भीड़ रही। वहीं, रेलवे ने भीड़ को देखते हुए दिल्ली से पटना के लिए स्पेशल ट्रेन भी शुरू की है लेकिन उसके बाद भी ट्रेनों में काफी भीड़ रही। वहीं, दिल्ली जाने के लिए शनिवार से यात्रियों की भीड़ शुरू हो गई है। लखनऊ मेल, एसी सुफरफास्ट जैसी ट्रेनों में शनिवार को जबरदस्त भीड़ रही। वहीं, नई दिल्ली से बरौनी जाने वाली स्पेशल ट्रेन 04404 के पहियों से अचानक चिंगारियां निकलना शुरू हो गई। यात्रियों ने बताया कि लखनऊ से चलने के बाद अचानक एक पहिये से चिंगारियां निकलना शुरू हो गई। इसकी सूचना यात्रियों ने डीआरएम को ट्वीटर पर दी।

टिकट मिलने के बाद खड़े होकर की यात्रा

लखनऊ से गोरखपुर जाने वाली गोखपुर इंटरसिटी में आरक्षित टिकट लेने के बाद भी यात्रियों को खड़े होकर सफर करना पड़ गया। असल में गोरखपुर इंटरसिटी में दो कोच ऐसे हैं, जिनमें बैठने के लिए 91 सीटें है लेकिन इनमें 98 सीटों तक की बुकिंग हो गई। ऐसे में यात्री जब ट्रेन पकड़ने पहुंचे तो उनको अपनी सीट ही नहीं मिली। इसकी शिकायत यात्रियों ने डीआरएम व रेल मंत्रालय से की है। गोरखपुर इंटरसिटी में दो कोच पुराने लगाए जा रहे है जबकि सेंट्रल रिर्जेवेशन एंड इनफारमेंशन सिस्टम क्रिस में टिकट बुकिंग के लिए नए कोच फीड है। रेलवे ने जो नए कोच लगाए है। उनमें यात्रियों की बैठने के लिए सीटें अधिक है। ऐसे में पुराने कोच लगने से सीटें कम हो गई। इससे यात्रियों को खड़े होकर सफर करना पड़ा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:railway