DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निरीक्षण के दौरान ही सैलून के इस्तेमाल की अनुमति

सैलून के बेवजह इस्तेमाल को कम करने के लिए पूर्वोत्तर रेलवे लखनऊ मंडल ने प्रयास शुरू कर दिए हैं। सैलूनों के गलत इस्तेमाल को लेकर रेल मंत्री से लेकर रेलवे बोर्ड अध्यक्ष तक ने सख्त रवैया अपनाया है। सैलून के इस्तेमाल से यात्रियों को भी नुकसान होता है। क्योंकि एक बोगी हटाकर ट्रेनों में अधिकारियों के सैलून को लगाया जाता है।

डीआरएम विजयलक्ष्मी कौशिक के अनुसार निरीक्षण के दौरान ही सैलून को इस्तेमाल किया जाता है। डीआरएम ने बताया कि सैलूनों का इस्तेमाल बहुत ही कम किया जा रहा है। सरकारी कार्य के दौरान ही सैलून का इस्तेमाल होता है। सैलून ले जाने के लिए भी सक्षम अधिकारी से अनुमति लेना पड़ती है। सैलून के कम प्रयोग से उनकी जगह बोगियां लगाई जा सकती है। इससे यात्रियों को भी राहत मिलेगी। रेलवे इस पर विचार कर रहा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:railway