DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ट्रेनों के स्लीपर कोच जनरल से बदतर, परीक्षार्थियों का कब्जा

राजधानी में आयोजित सहायक अध्यापक(एलटी ग्रेड) की परीक्षा के बाद गतंव्य वापसी पर परीक्षार्थियों की भीड़ ने ट्रेनों पर कब्जा जमाया। प्रदेश के कोने-कोने से आये परीक्षार्थियों की भीड़ के आगे सुरक्षा कर्मी नतमस्त दिखे। अभ्यर्थियों ने इस दौरान स्लीपर से लेकर महिला कोच और विकलांग कोच में घुस जबरन यात्रा की। चारबाग रेलवे स्टेशन व लखनऊ जंक्शन से गुजरने वाली ट्रेनों से सफर करने वाले आरक्षित यात्री इसको लेकर शिकायत ही दर्ज कराते रहे, लेकिन कोई सुनवाई ही नहीं हुई। वहीं, सुरक्षा के इंतजाम नाकाफी दिखे।

परीक्षा सुबह 11.30 बजे थी। इसको लेकर शनिवार रात से स्टेशनों पर भीड़ ने आना शुरू कर दिया था। सुबह तक प्लेटफार्म पर ही अभ्यर्थी जमे रहे। रविवार के स्टेशन पर सुरक्षा कर्मियों की कमी दिखी। अनियंत्रित भीड़ को काबू करने के लिए प्लेटफार्म पर जीआरपी और आरपीएफ के कर्मी ही नहीं दिखे। रोजाना ड्यूटी पर तैनात कर्मियों से ही भीड़ को व्यवस्थित किया गया। दोपहर 1.30 बजे परीक्षा समाप्त होते ही परीक्षार्थी घर वापसी के लिए स्टेशन पहुंच गए। इस दौरान परीक्षार्थियों ने राज्यरानी सुपरफास्ट एक्सप्रेस, उत्सर्ग एक्सप्रेस, लखनऊ-कानपुर मेमू, नीलांचल एक्सप्रेस, त्रिवेणी एक्सप्रेस, झांसी इंटरसिटी, अमरनाथ एक्सप्रेस समेत गंगा गोमती समेत तमाम ट्रेनों में जबरन घुस यात्रा पूरी की।

पूछताछ केंद्रों पर जुटी भीड़

परीक्षा के बाद गंतव्य वापसी को लेकर परीक्षार्थियों की खासी भीड़ चारबाग और लखनऊ जंक्शन स्टेशन के पूछताछ केंद्रों पर देखने को मिली। ट्रेनों की जानकारी के लिए परीक्षार्थियों में होड़ सी देखने को मिलीं।

प्लेटफार्म टिकट काउंटर लगा जमावड़ा

परीक्षा में प्रदेश के कोने-कोने से परीक्षार्थियों ने शिरकत की। इसमें उनके साथ उनके अभिभावक भी मौजूद थे। घर वापसी को लेकर चारबाग के पोर्टिको प्रथम पर बने प्लेटफार्म टिकट काउंटर पर सैकड़ों की संख्या में लोग टिकटों को लेने में जुटे रहे।

एटीवीएम पर उमड़ा जनसैलाब

स्टेशन पर लगे एटीवीएम(ऑटोमैटिक टिकट वेंडिंग मशीन) पर रविवार परीक्षार्थियों की जबरदस्त भीड़ से परेशानी बनी रही। हजारों परीक्षार्थियों ने टिकट लेकर यात्रा पूरी की, जबकि हजारों ने बेटिकट ही सफर किया। अधिकांश परीक्षार्थी जनरल का टिकट लेकर स्लीपर में सवार हो गए। यही हाल लखनऊ जंक्शन पर भी रहा।

वेटिंग हाल खचाखच भरे

चारबाग रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक पर बने उच्च श्रेणी के वातानुकूलित और स्लीपर वेटिंग हाल बहुत बुरी तरह यात्रियों से भरे रहे। यात्रियों के लिए सीटें नाकाफी थी। दरअसल, प्लेटफार्म पर चारों तरफ परीक्षार्थी का कब्जा था, जिसको लेकर आरक्षित यात्री स्लीपर और उच्च श्र्रेणी प्रतिक्षालय कक्ष चले गए। वेटिंग हाल में इंतजाम नाकाफी होने के चलते आरक्षित यात्रियों ने जमीन पर बैठ कर ट्रेनों का इंतजार किया।

आपात खिड़कियां बने रास्ते

सीट पर कब्जे को लेकर परीक्षार्थी प्लेटफार्म पर ही बैठें रहे। ट्रेनों के आते ही परीक्षार्थियों समेत यात्रियों की भीड़ भी कोच के गेट पर जुट गई। इससे रास्ता जाम हो गया। अधिकांश परीक्षार्थी इसके बाद आपाल खिड़की को रास्ता बनाकर ट्रेन में घुसे और खाली पड़ी सीटों पर कब्जा जमाया। महिलाओं ने भीड़ को देखते हुए अपने बच्चों को भी आपात खिड़की के रास्ते भेजा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Railway