DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अवैध खनन की सूचना पर हलकान रहा प्रशासन, एसडीएम व तहसीलदार ने की छापेमारी

अवैध खनन की सूचना पर रातभर गोंडा जिले का प्रशासनिक अमला हलकान रहा। एसडीएम व तहसीलदार ने रात में ही छापेमारी की लेकिन रात में कुछ भी नहीं मिल पाया। समझा जाता है कि इसकी भनक लगते ही खनन में लिप्त लोग सतर्क हो गये और टीम के पहुंचने से पहले ही सुरक्षित ठिकाने पर चले गए। हालांकि रात में छापेमारी के दौरान कुछ भी नहीं मिलने पर प्रशासनिक अधिकारियों को बैरंग होना पड़ा है। लेकिन इसके विस्तृत जांच के आदेश दिए गए हैं।

सोमवार की रात को किसी ने डीएम को धानेपुर थाना क्षेत्र के पूरे दत्तई गांव के आसपास के इलाके में जेसीबी मशीन लगाकर अवैध रूप से खनन करने की शिकायत की गई थी। जिस पर डीएम तुरंत ने एसडीएम को मामले में जांच कर कार्रवाई के लिए निर्देशित किया। इस पर एसडीएम डा. नितिन गौर ने तहसीलदार वेद प्रकाश पांडेय के साथ रात में तकरीबन साढ़े ग्यारह बजे ही पूरे दत्तई गांव पहुंचे और आसपास के इलाकों के साथ ही संदिग्ध ठिकानों पर छापे मारी की। 

उन्होंने क्षेत्र के एक ईंट भट्ठे पर भी जाकर देखा कि कहीं खनन कर मिट्टी तो नहीं गिरायी गयी है। हालांकि रात में तकरीबन दो घंटे तक इधर-उधर छापेमारी के दौरान कुछ भी हाथ नहीं लगने पर एसडीएम लौट गये। तहसीलदार वेद प्रकाश पांडेय ने बताया कि सोमवार की रात को अवैध खनन की सूचना पर मिली थी जिस पर एसडीएम साहब के साथ रात में ही मौके पर गये थे आसपास के क्षेत्रों में देखा गया लेकिन कुछ भी नहीं मिला है। लगता है कि लिप्त लोगों को हम लोगों के आने की भनक लग गई थी। जिस पर सतर्क हो गये होंगे। फिलहाल मंगलवार को राजस्व कर्मियों की टीम को एक बार फिर से भेजा गया है। रिपोर्ट तलब की गयी है। किसी ने अवैध खनन की शिकायत डीएम से की थी।

जब भटक गए रास्ता : अवैध खनन की सूचना पर सोमवार की रात को छापेमारी करने के लिए निकले एसडीएम व तहसीलदार रास्ता ही भटक गए। क्षेत्र में भ्रमण कर रही धानेपुर थाना की डायल 100 की पीआरबी 0867 टीम से पूरे दत्तई गांव का रास्ता पूछा। इस पर डायल टीम ने पूरे प्रशासनिक अधिकारियों को पूरे दत्तई गांव तक पहुंचाया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Raiding on the information of illegal mining SDM and Tehsildar raids