अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसानों के सब्र का बांध टूटा ,नाराज़ किसानों ने मुख्यमंत्री आवास घेराव के लिए जा रहे किसानों को पुलिस ने

हरदोई रोड पर लगा एक किलोमीटर लम्बा जामएम्बुलेंस भी जाम में फंसी, 40 मिनट तक खड़े रहे वाहनकाकोरी हिन्दुस्तान संवादहजारों की संख्या में दो दिनों से धरने पर बैठे भारतीय किसान यूनियन लोकतांत्रिक के नेताओं की पुलिस से नोकझोंक हुई। जॉगस पार्क दुबग्गा में धरना दे रहे किसानों से जब एडीएम और एसडीएम ज्ञापन लेने पहुंचे तो किसान नेताओं ने उनकी ओर ध्यान नहीं दिया। नेताओं की अपील पर किसान मुख्यमंत्री को ज्ञापन देने सीधे उनके आवास की ओर पैदल जाने के लिए सड़क पर उतर गए। पुलिस ने किसी तरह दुबग्गा- हरदोई रोड पर सीतापुर बाईपास के पास उनको रोका। इस बीच करीब 40 मिनट तक हरदोई रोड पर जाम लगा रहा। एक हरादोई रोड पर एक किलोमीटर वाहनों की कतारें लग गईं। कई एम्बुलेंस भी जाम में फंस गईं। एडीएम ने माइक से घोषणा की कि सोमवार को मुख्यमंत्री और मंगलवार को प्रमुख सचिव ने किसानों के प्रतिनिधियों से मिलने का समय दिया है। इसके बाद किसान शांत हुए। उधर जाम के बीच में फंसी एम्बुलेंस को कुछ जागरूक वाहन चालकों ने ही गाड़ियां इधर-उधर कर रास्ता दिलवाया। वहीं, किसान नेताओं ने राज्यपाल और मुख्यमंत्री को सम्बोधित 25 सूत्रीय ज्ञापन एडीएम को सौंपा। ज्ञापन देने वालों में संगठन के जिलाध्यक्ष मनीष यादव, प्रदेश महामंत्री राहुल सिंह, प्रवक्ता विनीत शुक्ला, प्रदेश संगठन मंत्री राम सागर शुक्ला आदि शामिल रहे। किसान नेताओं के बीच पहुंचे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्षभाकियू लोकतांत्रिक की किसान पंचायत में रविवार को कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर पहुंचे। उन्होंने यहां मंच से कहा कि कांग्रेस हमेशा किसानों, छात्रों, बेरोजगारों और पीड़ितों की लड़ाई लड़ती रही है। प्रदेश में कानून व्यवस्था बिगड़ी हुई है। राज बब्बर ने मुख्यमंत्री पर आरोप लगाया कि उन्होंने शपथ लेने के बाद 14 दिनों में किसानों का बकाया भुगतान कराने का वादा किया था। बावजूद इसके किसानों का 10 हजार करोड़ आज भी बकाया है। भूकियू लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार सिंह गौतम ने कहा कि वर्तमान में सरकार और चीनी मिलों पर किसानों की बड़ी धनराशि बकाया है। केन्द्र और राज्य की सरकारें किसानों के भुगतान के लिए गंभीर नहीं हैं। प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह चौहान ने कहा कि सरकार के इशारे पर पुलिस और प्रशासन किसानों का उत्पीड़न कर रहे हैं। इस मौके पर संगठन के संरक्षतक कुंवर बादशाह सिंह ने भी किसानों को सम्बोधित किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:protest