अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बहराइच में बारिश के दौरान ढहा प्राइमरी स्कूल

बहराइच में बारिश के दौरान ढहा प्राइमरी स्कूल

खतरे में बच्चे

दिन में ढहता स्कूल तो दब जाते दर्जनों बच्चे

100 से अधिक बच्चे इस स्कूल में आते हैं पढ़ने

फोटो फाइल नम्बर 13 बीएएचपीआईसी 11

कैप्सन- बारिश के दौरान ढहा प्राथमिक विद्यालय मूसेपट्टी

फखरपुर(बहराइच)। हिन्दुस्तान संवाद

गुरुवार की रात तेज बारिश के दौरान फखरपुर के मूसेपट्टी का प्राथमिक विद्यालय का भवन धराशायी हो गया। यदि यह विद्यालय दिन में गिरा होता, तो बड़ा हादसा हो सकता था। शुक्रवार को खण्ड विकास अधिकारी तेजवंत सिंह, ग्राम पंचायत अधिकारी ओम प्रकाश यादव, समेत शिक्षा विभाग के कर्मचारियों ने पहुंचकर घटना की जांच शुरू की।

बहराइच के फखरपुर ब्लाक के परिषदीय विद्यालयों की हालत जर्जर है। उन्हीं में से एक मूसेपट्टी प्राथमिक विद्यालय का आधा हिस्सा गुरुवार रात बारिश के दौरान ढह गया। रात में विद्यालय गिरने से कोई हताहत नहीं हुआ। विभागीय लोगों का कहना है कि जो कमरा गिरा है इसमें 2 वर्षों से पढाई नहीं होती थी। जबकि आसपास के लोगों का कहना है कि अभी तक बच्चे इसी कमरे के बरामदे में बैठकर मिड-डे मील खाते थे। शिक्षक भी कुर्सियां डालकर इसी में बैठते थे।

इस विद्यालय में 177 बच्चों का नामांकन है। प्रतिदिन 100 से 150 तक बच्चे पढ़ने आते हैं। जर्जर विद्यालय के बगल कुछ दिन पूर्व एक एसीआर कक्ष बनाया गया था। दो एसीआर कक्ष लगभग पचास मीटर दूर बना हुआ है, लेकिन शिक्षक एक ही कमरे में सभी बच्चों को बैठाकर पढ़ाते थे। इस विद्यालय में 6 शिक्षक तैनात हैं।

कोट-----------------

बच्चों के बैठने के लिए 3 एसीआर बनाए गए हैं। जर्जर भवन को तोड़ने के लिए आदेश मांगा गया था। जो अभी तक नहीं मिल पाया है। विद्यालय गिरने के बाद बचा हुआ विद्यालय भी जल्द गिराया जाएगा। एसीआर में बच्चों को न बैठाने वाले लापरवाह शिक्षकों पर भी कार्रवाई की जाएगी।

बृजलाल वर्मा, खण्ड शिक्षा अधिकारी

बिजली गिरने से बरामदा ढहा, दो घायल

फखरपुर(बहराइच) | हिन्दुस्तान संवाद

गुरुवार रात बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से एक घर का बरामदा ढह गया। उसके नीचे सो रहे दो सगे भाई दबकर घायल हो गए।

रानीपुर थाना क्षेत्र के ग्राम दहौरा निवासी कुंवर जयंकर सिंह के दो पुत्र 28 वर्षीय रविकर सिंह व 24 वर्षीय शशिकर सिंह गुरुवार की रात घर के बाहर बारामदे में सो रहे थे। तभी बारिश शुरू हो गई। तेज बारिश के दौरान देर रात बरामदे पर आकाशीय बिजली गिरी, जिससे बरामदा धराशाई हो गया। उसके नीचे दोनों भाई दब गए। दोनों घायलों को अस्पताल ले जाया गया। उनकी हालत गंभीर है।

बॉक्स--------------------

सीतापुर में शारदा नदी कर रही कटान

तम्बौर/रेउसा | हिन्दुस्तान संवाद

शारदा ने तेजी से कटान करना शुरू कर दिया है। नदी काशीपुर में घरों को चपेट में ले लिया है। बंसतापुर में कृषि भूमि को काटना शुरू कर दिया है। कटान रोकने के दावे प्रशासन के फिर फेल होने लगे है। नदी की कटान से ग्रामीण काफी चिंतित हैं। एसडीएम लहरपुर ने गांव जाकर जायजा भी लिया है।

लहरपुर, बिसवां तहसील क्षेत्र में शारदा नदी का कटान बढ़ने लगा है। काशीपुर ग्राम में खमरिया शेखपुर में गांव के किनारे नदी का बहाव तेज होने से नदी का रुख गांव की तरफ आक्रामक होता दिखने लगा है। नदी के किनारे बसे फलस्वरूप, राजकुमार शुक्ला, उमाशंकर, गुड्डू, रामलोटन के घरों के सामने नदी ने कटान शुरू कर दिया है। ग्रामीणों ने बताया कि कटान की गति धीमी नहीं हुई तो गांव के कई घर में समा सकते हैं। कटान की सूचना मिलने पर एसडीएम पूर्णिमा सिंह, तहसीलदार विनोद यादव ने गांव जाकर जायजा लिया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Primary school fell during rain in Bahraich