DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संतों ने की इलाहाबाद का नाम प्रयागराज करने की मांग

राज्य मुख्यालय। विशेष संवाददाता अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के संतों ने सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। संतों ने कहा कि अर्द्ध कुंभ 2019 के दौरान गंगा में साफ पानी की पर्याप्त उपलब्धता रहे। परिक्रमा करने का मार्ग अतिक्रमण मुक्त रहे और मेले में आने वालों के लिए बेहतर सुरक्षा व दूसरी सुविधाएं होनी चाहिए। परिषद ने सीएम से कहा कि संतों को आईकार्ड जारी किया जाए और इलाहाबाद का नाम बदल प्रयागराज किया जाए। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि तथा 12 अन्य संतों ने मंगलवार को सीएम के साथ बैठक की। महंत नरेंद्र गिरी ने कहा कि हमको भरोसा है कि इलाहाबाद का नाम प्रयागराज होगा। बैठक के बाद महंत नरेंद्र गिरि ने पत्रकारों से कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आश्वासन दिया है कि इस बार अर्द्ध कुंभ ऐतिहासिक होगा। अखाड़ा परिषद ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज करने का प्रस्ताव भी सीएम को सौंपा। उन्होंने बताया कि परिषद की मांग को गम्भीरता से लेते हुए मुख्यमंत्री ने इलाहाबाद का नाम प्रयागराज किए जाने पर विचार करने का आश्वासन दिया है। अयोध्या के निवार्णी अखाड़े के महन्त धर्मदास ने बताया कि मुख्यमंत्री से कहा कि वे गंगा नदी के निर्मलीकरण कार्य में सरकार को पूर्ण सहयोग देने के इच्छुक हैं। बैठक में जूना अखाड़ा के संत भी शामिल थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:prayagraj