DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उपभोक्ता सहकारी संघ अध्यक्ष के आवास का कर्मचारियों ने किया घेराव

उपभोक्ता सहाकारी संघ लिमिटेड को पुन: सरकार के अधीन लाए जाने की मांग को लेकर कर्मचारी बुधवार को सड़क पर उतर आए। उन्होंने संघ के अध्यक्ष व बीजेपी विधायक प्रकाश द्विवेदी के हजरतगंज स्थित कसमंडा हाऊस आवास का घेराव कर प्रदर्शन शुरू कर दिया। इस दौरान कर्मचारियों की पुलिस से तीखी नोंकझोंक भी हुई। काफी देर चले प्रदर्शन को विधायक के सहयोगियों से मिले आश्वासन के बाद समाप्त कराया जा सका। यह कर्मचारी पिछले तीन दिनों से अपनी मांगों के समर्थन में संघ मुख्यालय पर धरना दे रहे हैं।

प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे प्रबंधक ओमेन्द्र कुमार ने कहा कि प्रबंधतंत्र द्वारा वर्ष 2013 में मल्टीस्टेट के तहत उपभोक्ता सहकारी संघ का पंजीकरण कराने के बाद से कर्मचारियों कार्यविहीन हो गए। किसानों को सीधे लाभ पहुंचाने के लिए सरकार द्वारा शुरू की गई धान एवं गेहूं खरीद योजना का कार्य भी पूरी तरह बंद हो गया। नतीजा यह हुआ कि प्रबंध निदेशक से लेकर क्षेत्रीय प्रबंधक तक ने अपनी नौकरी से त्याग पत्र दे दिया। उन्होंने बताया कि वेतन न मिलने के कारण कर्मचारियों की आर्थिक स्थिति खराब हो चली है। वेतन के अभाव में सही इलाज न मिलने से कई बीमार कर्मचारियों की मौत तक हो गई। कर्मचारियों ने चेतावनी भरे लहजे में राज्य सरकार को चेताते हुए कहा कि यदि लंबित वेतन का जल्द भुगतान नहीं किया गया तो परिवार संग आत्महत्या करने को मजबूर होंगे। वहीं बीपी सिंह ने संघ को पूर्व की भांति उप्र. सहकारी समिति अधिनियम 1965 के तहत संचालित करने की मांग उठाई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:pradarsan